27.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंग'नीतीश कुमार किसी के रहमोकरम पर मुख्यमंत्री नहीं हैं, उन्हें जनता ने...

‘नीतीश कुमार किसी के रहमोकरम पर मुख्यमंत्री नहीं हैं, उन्हें जनता ने चुना है’

- Advertisement -

सेंट्रल डेस्क : भाजपा एमएलसी संजय पासवान के बयान पर बिहार में सत्तारूढ़ एनडीए के घटक दलों- जदयू और भाजपा में शासन के शीर्ष पद की कमान को लेकर सियासत और बयानबाजी अभी कम नहीं हुई है. जदयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने साफ़ कह दिया है कि नीतीश कुमार किसी के रहमोकरम पर मुख्यमंत्री नहीं हैं। उन्हें भाजपा या जदयू ने नहीं, जनता ने बिहार का नेतृत्व सौंपा है.

केसी त्यागी ने कहा कि 2005 के विधानसभा चुनाव में रांची में लालकृष्ण आडवाणी ने घोषणा की थी कि यदि एनडीए जीतेगी तो नीतीश ही सीएम बनेंगे. उस समय दिल्ली में यूपीए-1 की सरकार थी और उसमें लालू प्रसाद मंत्री थे. एनडीए भारी बहुमत से जीती और नीतीश कुमार सीएम बने. उन्हें दर्जन भर मीडिया चैनल ने भी सर्वश्रेष्ठ सीएम बताया है.

वहीं रामविलास पासवान ने भी कहा है कि पीएम के रूप में नरेंद्र मोदी और बिहार में सीएम के लिए नीतीश कुमार ही चेहरा हैं. त्यागी ने कहा कि सीएम पद के लिए भाजपा ने आधिकारिक बयान नहीं दिया है, यह नेताओं का व्यक्तिगत बयान है. ऐसे बयान एनडीए की चुनावी योजना को कमजोर करते हैं. मित्र दलों के नेताओं को इससे बचना चाहिए.

वहीं, भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ सीपी ठाकुर ने भी मंगलवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री विधान पार्षद संजय पासवान के बयान का समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री पद के लिए भाजपा को एक बार मौका देने की मांग की है. इस बीच राजद उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने सवाल किया है कि क्या भाजपा नेताओं की यह आक्रामकता आलाकमान के इशारे के बगैर संभव है.

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -