35.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगकानपुर : अत्यधिक इंटरनल ब्लीडिंग की वजह से हो गई थी 60...

कानपुर : अत्यधिक इंटरनल ब्लीडिंग की वजह से हो गई थी 60 फिट से गिरी अदीबा की मौत, शव सुपुर्द-ए-खाक

- Advertisement -spot_img

कानपुर/बीपी प्रतिनिधि। डीजी पीजी कॉलेज में 60 फीट से गिरने वाली छात्रा अदीबा इशाक की आठ हड्डियां टूट गईं थीं। इसी वजह से शरीर काफी खून बह गया जिसके उसकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है। फिलहाल मामले की जांच चल रही है और छात्रा के शव को दफ्न कर दिया गया है।

मंगलवार शाम को पोस्टमार्टम के बाद अदीबा का मृत शरीर परिजनों को सौंपा गया। परिजनों ने शव सुपुर्द-ए-खाक किया। गौरतलब है कि पिता और भाई ने कॉलेज प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। जिनकी जांच की जा रही है।

मंगलवार सुबह अदीबा का पोस्टमार्टम किया गया। इस दौरान अदीबा के पिता मोहम्मद इशाक दोनों बेटों के साथ पोस्टमार्टम हाउस में मौजूद थे। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर के अनुसार अदीबा की आठ हड्डियां टूटी थीं। 60 फिट से गिरा अदीबा के पैर जमीन से पहले टकराए जिस वजह से दोनों पैरों में छह फ्रैक्चर हो गए। इनमें तलवे के ऊपर, घुटने के नीचे और जांघ की हड्डी शामिल है।

वहीं बाद में जमीन से उसका सिर टकराया जिससे बायीं तरफ एक माइनर फ्रैक्चर हुआ। दाएं हाथ की कलाई में भी माइनर फ्रैक्चर मिला है। हड्डियां टूटने के कारण बहुत तेजी से बहुत ज्यादा मात्रा में इंटरनल ब्लीडिंग हुई। इसी ब्लीडिंग की वजह से अदीबा की मौत हो गई।

पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। जिसे लेकर परिजन मिश्री बाजार मेस्टन रोड पहुंचे। वहां पर शव कुछ देर रखने के बाद शाम लगभग 5 बजे उसे बड़ी ईदगाह के सामने स्थित कब्रिस्तान में दफ्न कर दिया गया।
यह भी पढ़ें…

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -