39.1 C
Delhi
Hometrendingकानपुर : काकादेव के दोहरे हत्याकांड में तीन युवकों को आजीवन कारावास...

कानपुर : काकादेव के दोहरे हत्याकांड में तीन युवकों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई

- Advertisement -spot_img

कानपुर, बीपी संवाददाता। काकादेव में हुए दोहरे हत्याकांड में आखिरकार फैसला आ ही गया। मामले में दो सगे भाइयों प्रिंस और मोनू सिंह का सिर ईंट से कुचलकर और रस्सी से गला घोटकर दोनों को मौत के घाट उतार दिया गया था। घटना छह नवंबर 2018 की है। घटना के तीन आरोपियों अमर थापा, आकाश थापा और शुभम दिवाकर को आजीवन कारावास की सजा जिला जज, कानपुर नगर की अदालत ने सुनाई।

अधिवक्ता अशोक कुमार गुप्ता।

घटनाक्रम के अनुसार रात तकरीबन 9.30 बजे प्रिंस (24) और मोनू (28) अपनी बड़ी बहन ज्योति से कुछ देर में लौट आने के लिए कहकर अपनी वैगन आर से निकले थे। रास्ते में उन्हें आकाश थापा जो उनके लिए पैसे के तगादे का काम करता था, मिला। उसके साथ अमर थापा और शुभम दिवाकर भी थे। तब पांचों लोग नीरक्षीर चौराहे के पास स्थित एक पेट्रोलपंप पर पेट्रोल भराने पहुंच गए। प्रिंस और मोनू ने अमर से पेट्रोल के रुपये देने को कहा तो उन्होंने पैसे न होने का हवाला दिया।

इतनी छोटी सी बात बातों ही बातों में मामला मारपीट पर पहुंच गया। गाड़ी इस दौरान काकादेव के एक पब्लिक स्कूल के सामने खाली प्लॉट के पास पहुंच गई थी। खाली प्लॉट देखकर उतरे अमर और आकाश थापा के साथ मिलकर शुभम ने प्रिंस और मोनू पर ईंट से हमलाकर दिया। दोनों के सिर में काफी चोट पहुंचाने के बाद उनके गले को रस्सियों से घोट दिया। इसके बाद नींव में गाड़कर ऊपर से मिट्टी डाल दी।

बहन ज्योति ने 8 नवंबर को घटना की रिपोर्ट तब दर्ज कराई जब प्रिंस और मोनू की लाश मिल गई। वरिष्ठ अधिवक्ता अशोक कुमार गुप्ता ने बताया कि जिला जज मयंक जैन ने आरोप सिद्ध होने पर तीनों युवकों आकाश थापा, अमर थापा और शुभम दिवाकर को दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -