जहरीली शराब से 16 लोगों की मौत का किंगपिन अरविंद यादव गिरफ्तार

नवादा (पंकज कुमार सिन्हा): नवादा में 16 लोगों की जहरीली शराब से हुई मौत के मुख्य आरोपी अरविंद यादव को नवादा की पुलिस ने मंगलवार की सुबह गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस उससे गहन पूछताछ कर रही है। नवादा नगर थाने के खरीदी बिगहा में अरविंद को उसके घर से पुलिस ने गिरफ्तार किया । साथ ही शराब बनाने की फैक्ट्रियों के कई सामान को भी जप्त किया। अरविंद नकली शराब बनाने का मुख्य आरोपी है , जो काफी लंबे समय से फरार चल रहा था।


वर्ष 2020 में भी 5000 लीटर शराब बरामदगी का अरविंद मुख गुनाहगार है । नवादा की एसपी धूरत सायली सावलाराम ने अरविंद की गिरफ्तारी की पुष्टि कर दी है। लेकिन पूछताछ के बाद कई राज खोलने के उद्देश्य अभी कुछ विशेष कहने से इंकार कर रही है। एसपी का मानना है कि होली के अवसर पर जहरीली शराब का निर्माण अरविंद यादव के गांव खरीदी बीघा में ही हुई थी। वहीं से रैपर में भरकर शराब का वितरण भी किया गया था ।

लोगों के बीच इसे बांटा और बेचा भी गया था। अरविंद यादव की देखरेख में शराब का धंधा खरीदी बीघा में चलाया जा रहा था। घटना के बाद अरविंद फरार हो गया था । इससे भारी मशक्कत के बाद पुलिस ने गिरफ्तार किया । इससे पूर्व नवादा पुलिस ने शराब बेचने वाले मंती देवी, अनिल चौधरी , पप्पु यादव, सूरज चौधरी को भी गिरफ्तार कर लिया है । गिरफ्तार सभी लोगों ने भी पुलिस को बताया था कि अरविंद यादव शराब फैक्ट्री चलाकर हम सभी को शराब की आपूर्ति किया करता था। गिरफ्तार लोगों ने यह भी बताया था कि अरविंद बड़े पैमाने पर कई जगह पर शराब का अवैध कारोबार कर रहा था ।

पुलिस ने शराब से मरने के मामले में 10 अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की है । जिसकी जांच सघनता से की जा रही है। अरविंद यादव की गिरफ्तारी पुलिस के लिए एक बड़ी सफलता है। गौरतलब है कि इस मामले में नगर थाना इंस्पेक्टर टीएन तिवारी, स्थानीय चौकीदार राजीव मिश्रा तथा उत्पाद अधीक्षक के दारोगा नागेंद्र प्रसाद को इस मामले में निलंबित किया जा चुका है। एसपी ने बताया कि इस मामले की गहनता से जांच के बाद कई अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी संभव है ।