पुडुचेरी में सियासी संकट के बीच उपराज्यपाल पद से किरण बेदी की छुट्टी

-पुडुचेरी की सरकार अल्पमत में –कांग्रेस ने बेदी को हटाने के लिए राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा था



सेंट्रल डेस्क/नई दिल्ली: किरण बेदी को पुडुचेरी के उपराज्यपाल पद से हटा दिया गया है। उनकी जगह तेलंगाना के राज्यपाल तमिलसाई सुंदरराजन को अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। किरण बेदी को 29 मई 2016 को उपराज्यपाल नियुक्त किया गया था।
गौरतलब है कि पुडुचेरी की कांग्रेस सरकार और किरण बेदी में लंबे समय से टकराव चल रहा था। मुख्यमंत्री वी. नारायणस्वामी ने 10 फरवरी को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को ज्ञापन सौंप कर उनसे आग्रह किया था कि पूर्व आईपीएस अधिकारी को वापस बुला लिया जाए। उन्होंने दावा किया था कि वह ‘तुगलक दरबार’ चला रही हैं।

फिलहाल पुडुचेरी में राजनीतिक संकट व्याप्त है। कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ चुकी है। दरअसल, केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में एक और विधायक ने इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद मौजूदा सदन में कांग्रेस नीत गठबंधन के अब 14 विधायक रह गए हैं। इस तरह कांग्रेस सरकार ने विधानसभा में अपना बहुमत खो दिया है।

हालांकि मुख्यमंत्री का दावा है कि उनकी सरकार को सदन में बहुमत हासिल है। मालूम हो कि पुडुचेरी विधानसभा के लिए अप्रैल-मई महीने में चुनाव होने वाले हैं। पुडुचेरी विधानसभा में कांग्रेस के 10, डीएमके के 3, ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस के 7, एआईएडीएमके के 4, बीजेपी के 3 और एक निर्दलीय विधायक हैं। बता दें कि कांग्रेस के चार विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है जबकि एक विधायक को अयोग्य ठहराया गया है। पुडुचेरी में बहुमत का आंकड़ा 15 है।