महुआ मोइत्रा ने दिल्ली पुलिस को पत्र लिख कर जताया अपनी जासूसी का शक

सेंट्रल डेस्क /नयी दिल्ली : तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सांसद महुआ मोइत्रा दिल्ली पुलिस को पत्र लिख कर संदेह व्यक्त किया है कि उनकी जासूसी की जा रही है । पत्र में कहा गया है कि दिल्ली पुलिस ने उनके घर के बाहर तैनात तीन सशस्त्र अधिकारियों को तैनात कर दिया गया है । इन्हें हटाया जाय ।



पुलिस को लिखे पत्र में सांसद ने बताया कि उन्हें ऐसा लगता है कि जैसे उनकी जासूसी हो रही है। नदिया जिले के कृष्णानगर से तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने पत्र में कहा है कि तीन हथियार बंद पुलिसकर्मी उनके घर के बाहर तैनात हैं, जबकि उन्होंने सुरक्षा नहीं मांगी है। इन अधिकारियों को हटाया जाए।

सांसद ने बताया कि ऐसा लगता है कि ‘मैं किसी तरह की निगरानी में हूं’। मैं सुरक्षा नहीं लेती यदि आप मुझे पर निगरानी रख रहे हैं, तो मुझसे पूछें और मैं आपको बताऊंगी। वैसे भी अक्सर ही मोइत्रा सुर्खियों में रहती हैं। कभी मीडिया को दो पैसे का कह देती हैं तो कभी राष्ट्रपति भवन में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की असली तस्वीर को किसी फिल्म अभिनेता की फोटो बता कर ट्वीट कर देती हैं और जब सच बाहर आती है तो ट्वीट डिलीट कर देती हैं। 

गौरतलब है कि  मीडिया को दो पैसे की कहने वाली तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने दिसंबर, 2020 में ट्वीट किया, ‘बंगाल में अमित शाह का जादुई कपड़े धोने का अभियान जारी है। भाजपा में शामिल हों और धुलाई करके स्वच्छ बनकर उभरें।’ भाजपा ने 2016 में अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो अपलोड किया था। इसमें तृणमूल कांग्रेस के कई नेता किसी व्यक्ति से पैसे लेते दिखे रहे थे। इस वीडियो को शेयर करते हुए भाजपा ने कहा था कि बंगाल की सरकार और तृणमूल कांग्रेस कितनी भ्रष्ट है यह देख लीजिए। इस वीडियो को नारद न्यूज का स्टिंग ऑपरेशन बताया गया था। इस वीडियो में तृणमूल के कई नेता, सांसद व मंत्री दिख रहे थे, उनमें से तीन अब का हिस्सा बन चुके हैं। इसे लेकर अब तृणमूल कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि मुकुल रॉय, शोभन चटर्जी, सुवेंदु अधिकारी के भाजपा में शामिल होने के बाद स्टिंग वाला वीडियो उनके (भाजपा) आधिकारिक यूट्यूब चैनल से डिलीट कर दिया गया ह