सीट को लेकर अड़ गये मांझी, अब नहीं सुनेंगे किसी की, लालू से करेंगे बात

0
73

पटना/नियाज़ आलम : लोकसभा चुनाव 2019 के तहत महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने महागठबंधन पर दबाव बनाने के लिए पूरी तैयारी कर ली है। इसके लिए आज पार्टी की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक भी बुलाई. इस बैठक में जीतन राम मांझी ने पहले तो पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर केंद्र सरकार को घेरा.

मांझी ने कहा कि पुलवामा अटैक सरकार की बड़ी चूक का नतीजा है. अलर्ट होने के बावजूद सरकार सतर्क क्यों नहीं हुई. उन्होंने कहा कि भारत सरकार के रक्षा में भारी कमी है. इसके बावजूद नरेंद्र मोदी 56 इंच का सीना दिखाते हैं. ज़रूर कहीं न कहीं साज़िश है.

इसके बाद जीतन राम मांझी ने सीट शेयरिंग पर बोलते हुए कहा कि महागठबंधन का कोर्डिनेटर राजद और राजद की कमान लालू प्रसाद के पास है। हम उनसे मिलने जाएंगे. वह 23 फरवरी को लालू से मिल सकते हैं.

अभी तक मांझी यह कह रहे थे कि वह कांग्रेस से कम सीट नहीं लेंगे. लेकिन अब मांझी बैकफुट पर आ गये. अब मांझी कांग्रेस से कम सीट पर राजी हो सकते हैं, लेकिन बाकी से बिल्कुल नहीं. उन्होंने साफ़ कह दिया कि उन्हें सम्मानजनक सीट चाहिए.