मंत्री ईटेला राजेंद्र को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के प्रभार से किया गया मुक्त

हैदराबाद /तेलंगाना/ अंकिता राय: ताजा जानकारी के अनुसार तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने जमीनी विवाद में फंसे स्वास्थ्य मंत्री एटला राजेंद्र को उनके स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के प्रभार से मुक्त कर दिया है ।तत्कालीन परिस्थितियों को देखते हुए स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग को मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव को हस्तांतरित कर दिया गया है। इटेला राजेंद्र अब बिना किसी विभाग के एक मंत्री होंगे।


मंत्री ईटेला राजेंद्र पर आरोप है कि उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ हैदराबाद के बाहरी इलाके में मेडचल मल्काजगीरी जिले के गांव में लगभग 1000 करोड़ रुपए की भूमि का अतिक्रमण किया था।

175 एकड़ की भूमि का यह विवाद मुख्यमंत्री के आदेश पर मुख्य सचिव शोमश कुमार और डीजीपी पूर्णचंद्र राव द्वारा जाँच किया गया था। इन बात की शिकायत अचमपेट और हाकिम पेट के किसानों द्वारा मुख्यमंत्री को की गई थी।

राजस्व, भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो और सतर्कता विभाग के अधिकारियों द्वारा शनिवार को सुबह से ही इन गांवों में पहुंचकर आरोपी की जांच शुरू कर दी गई थी। कल शाम को ही प्रारंभिक जांच रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंप दी गई थी।

उधर ईटेला राजेंद्र के समर्थकों ने एक सड़क नाकाबंदी करके राजीव राहदारी पर वाहनों के आवागमन को बाधित कर दिया। ईटेला राजेंद्र का कहना है कि वह मुख्यमंत्री से संपर्क नहीं करेंगे और अपने ऊपर लगे आरोपों की जांच पूरी होने का इंतजार करेंगे और फिर कोई फैसला लेंगे।