32.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगनेपाल और बिहार आपसी सहयोग से सुलझाएंगे बिजली की खरीद-फरोख्त के मुद्दे!

नेपाल और बिहार आपसी सहयोग से सुलझाएंगे बिजली की खरीद-फरोख्त के मुद्दे!

- Advertisement -
  • नेपाल और बिहार के अधिकारियों की बीच हुई बैठक
  • नेपाल की जल विद्युत परियोजनाओं के पूरा होने से बिहार को लाभ होगा

स्टेट डेस्क/पटना: विद्युत भवन में उर्जा विभाग, बिहार सरकार और नेपाल विद्युत प्राधिकरण के बीच बैठक संपन्न हुई।बैठक में नेपाल और बिहार के विद्युत विनमय के लंबित मुद्दे पर सार्थक चर्चा हुई।
बिहार के उर्जा सचिव और बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक संजीव हंस ने कहा कि बिहार और नेपाल के संबंध सदियों पुराने हैं। हम साथ जल विद्युत परियोजनाओं में काम कर नेपाल और बिहार के संबंधों को और मजबूती देगें।

नेपाल भविष्य में बन रही जल विद्युत परियोजनाओं को रिजरवायर आधारित बनायेगा। इससे बिहार और नेपाल दोनों को विद्युत की कमी नहीं होगी। साथ ही नेपाल से आने वाली पानी के कारण बिहार में होने वाली बाढ़ की विभीषका से भी छुटकारा मिलेगा।

हंस ने कहा कि नेपाल के विद्युत से संबंधित सभी वाणिज्यिक मुद्दों के मिले प्रस्ताव पर विभाग में चर्चा कर अपने निर्णयों से 15 दिन के अंदर अवगत करा दिया जाएगा।

बैठक में नेपाल विद्युत प्राधिकरण के प्रमुख सह प्रबंध निदेशक के.एम.घिंसिंग ने कहा कि बिहार का नेपाल के विकास में काफी बड़ा हाथ है। उनका देश कई जल परियोजनाओं पर काम कर रहा है, जिसके बन जाने से नेपाल की विद्युत की स्थिति अच्छी हो जाएगी जिसका फायदा बिहार को भी मिलेगा।

बैठक में नार्थ बिहार पावर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक संदीप कुमार आर.पुदकलकत्ती, साउथ बिहार पावर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक संजीवन सिन्हा, नार्थ बिहार पावर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी लिमिटेड के परियोजना निदेशक एस.के.पी. सिंह एवं नार्थ बिहार पावर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी लिमिटेड व विद्युत क्रय कोषांग के प्रभारी और निदेशक अरूण कुमार सिन्हा भी उपस्थित थे। नेपाल विद्युत प्राधिकरण के निदेशक प्रबल अधिकारी और नेपाल जल संसाधन विभाग के राजु महाराजन उपस्थित थे।

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -