32.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगबिहार में कोरोना, वायरल, डेंगू, मलेरिया के बीच अब स्वाइन फ्लू की...

बिहार में कोरोना, वायरल, डेंगू, मलेरिया के बीच अब स्वाइन फ्लू की भी दहशत

- Advertisement -

स्टेट डेस्क/पटना : बिहार में लोग एक साथ कई बीमारियों के खतरे से परेशान हैं। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच डेंगू, मलेरिया, वायरल के साथ स्वाइन फ्लू का खतरा है। बच्चों से लेकर हर उम्र के लोग परेशान हैं। सरकारी अस्पतालों में बेड फुल हैं और मरीजों को प्राइवेट अस्पतालों का सहारा लेना पड़ रहा है। एक साथ कई बीमारी का खतरा होने के कारण बुखार होते ही लोग परेशान हो जा रहे हैं और इलाज के लिए भटक रहे हैं।

एक्सपर्ट ने कहा- डरना नहीं
पटना AIIMS के डॉ अनिल कुमार का कहना है कि बुखार होने पर घबराना नहीं है। बुखार होने पर तत्काल एंटीबायोटिक नहीं लेना है। एक से दो दिन बुखार के लिए पैरासिटामोल लेना है। अगर समस्या बढ़ रही है तो डॉक्टर से परामर्श लेना होगा। बिना डॉक्टर से चेक कराए एंटीबायोटिक दवा का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

डॉक्टरों का कहना है कि इस समय बुखार के कई कारण हैं। कोविड, मलेरिया, वायरल, फ्लू कुछ भी हो सकता है। ऐसे में दवा को लेकर अलर्ट रहना चाहिए। एंटीबायोटिक के कई ग्रुप और कंपोजीशन हैं। संक्रमण अलग-अलग तरह के हैं, ऐसे में इसका साइड इफेक्ट भी हो सकते हें।

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -