28.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगशिक्षक नियोजन में फर्जी सर्टिफिकेट के जरिए काउंसलिंग हुई तो ऑन स्पॉट...

शिक्षक नियोजन में फर्जी सर्टिफिकेट के जरिए काउंसलिंग हुई तो ऑन स्पॉट FIR

- Advertisement -

पटना: बिहार में शिक्षक नियोजन की शुरुआत 5 जुलाई से हो रही है। प्राथमिक और मध्य विद्यालय में 90,762 पदों पर शिक्षक नियोजन होना है। शिक्षा विभाग इसमें गड़बड़ी रोकने के इंतजाम कर रहा है। यदि फर्जी सर्टिफिकेट के जरिए किसी की काउंसलिंग हुई तो ऑनस्पॉट FIR की जाएगी।

आपको बता दें कि 2015 में हुई शिक्षक बहालियों पर सरकार की काफी फजीहत हो चुकी है। विजिलेंस को जांच का आदेश भी दिया गया है। इसके बाद हाईकोर्ट ने फर्जी तरीके से बहाल शिक्षकों से कहा इस्तीफा दे दें नहीं तो कार्रवाई होगी। बड़ी संख्या में फर्जी सर्टिफिकेट के आधार पर बहाल शिक्षकों ने इस्तीफा दिया और अपनी जान बचाई।

प्राथमिक शिक्षा के निदेशक रंजीत कुमार सिंह ने शिक्षक नियोजन पर कड़ी नजर रखने के लिए विभाग में एक वार रूम भी बनाया है। वे इसके माध्यम से ऑनलाइन निगरानी रखेंगे। राज्य के सभी 38 जिलों के काउंसिलिंग सेंटर को वार रूम से जोड़ा जाएगा। गड़बड़ी की हर सूचना पर विभाग एक्टिव रहेगा और जिला शिक्षा अधिकारी (DEO) सहित प्रखंड शिक्षा अधिकारी (BEO) से जवाब मांगा जाएगा।

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -