20.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगपटना: जल रही सत्ता की रोटी को पलटना ही मेरा अपराध- लालू...

पटना: जल रही सत्ता की रोटी को पलटना ही मेरा अपराध- लालू यादव

- Advertisement -

पटना: राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने कहा कि आजादी के बाद सत्ता की रोटी एक तरफ जल रही थी। मैंने गरीबों के साथ मिलकर रोटी को पलट दिया। बस, यही मेरा अपराध है। महिलाओं को सम्मान दिया। सभा में पीछे रहतीं तो आगे बुला लेते थे। सत्ता के लिए कभी समझौता नहीं किया। अपनी नीतियों पर डटे रहे। आप भी निडर रहें। तेजस्वी ने काफी मेहनत की है। सरकार बनेगी।

राजद प्रमुख बुधवार को चार चाल बाद पार्टी कार्यालय पहुंचे तो कार्यकर्ता काफी उत्साहित थे। कार्यालय फूलों से सजा था तो स्वागत में गाजे-बाजे के साथ नेता उपस्थित थे। लालू प्रसाद ने कार्यालय परिसर में छह टन के संगमरमर के लगे लालटेन को जलाया।

बाद में कार्यकर्ताओं से लालू प्रसाद ने कहा कि एकजुट होकर प्रपंच को तोड़ना है। मैं मुख्यमंत्री था तो सभी गरीबों से पढ़ने लिखने को कहता था। उनके अधिकार को बताता था। गरीब जान गए तो लोगों को परेशानी हो गई है। रेल मंत्री बना तो बिहार को कई कल कारखाने दिये। घाटे की रेल को मुनाफे में लाया। देश के किसान जीत गए, अहंकार हार गया। एमएसपी को कानून दर्जा मिले बिना आंदोलन समाप्त नहीं होगा।

लालू प्रसाद आज पूरे रौ में थे। कहा कि बैठे हुए हमको मन नहीं लगता है। आज अपना पुराना जीप चलाए। उस पर कर्पूरी ठाकुर को बैठाकर घूम आते थे। पांच हजार में खरीदे थे। महंगाई चरम पर है। डीजल-पेट्रोल और गैस का दाम आसमान छू रहा है। पांच-दस रुपये घटाने से कुछ नहीं होगा। रोलबैक करना होगा।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -