10.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगबिहार: हर्ष फायरिंग में कोई नहीं हुआ घायल तो भी केस दर्ज...

बिहार: हर्ष फायरिंग में कोई नहीं हुआ घायल तो भी केस दर्ज करेगी पुलिस, ADG ने सभी जिलों को दिया निर्देश

- Advertisement -

स्टेट डेस्क: हर्ष फायरिंग और उसकी वजह से होने वाली मौत पर पुलिस मुख्यालय सख्त दिख रहा है। हर्ष फायरिंग करने वालों पर कार्रवाई को लेकर पुलिस मुख्यालय से एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) विनय कुमार ने भागलपुर सहित सभी जिलों के एसपी को निर्देश दिया है।

उन्होंने कहा है कि हर्ष फायरिंग में कोई घायल नहीं भी हो, तब भी फायरिंग करने वाले के विरुद्ध केस दर्ज करें। उन्होंने हर्ष फायरिंग करने वालों पर शस्त्र (संशोधन) अधिनियम 2019 की धारा 25 (9) के तहत केस दर्ज करने को कहा है।

हाल के महीनों में राज्य के विभिन्न जिलों में हर्ष फायरिंग की घटनाएं बढ़ी हैं। शादी समारोह, तिलक समारोह, चुनाव में जीत, जन्मदिन उत्सव और पार्टियों में हर्ष फायरिंग की घटनाओं में कई लोगों की जान जा चुकी है।

एडीजी ने अपने पत्र में शस्त्र (संशोधन) अधिनियम 2019 की धारा 25 (9) की चर्चा की है और बताया है कि उस संशोधन अधिनियम के तहत जो कोई भी आग्नेयास्त्र का उपयोग उतावले या लापरवाही से या हर्ष फायरिंग करता है, जिससे मानव जीवन या दूसरों की व्यक्तिगत सुरक्षा को खतरा हो, एक अवधि के कारावास से जो दो साल तक बढ़ाया जा सकता है और जुर्माना जो एक लाख रुपये तक हो सकता है, या दोनों के साथ दंडनीय है। 

 

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -