32.1 C
Delhi
HomeNewsकांग्रेस को मजबूती देने को यूपी में प्रियंका लड़ सकती हैं विधानसभा...

कांग्रेस को मजबूती देने को यूपी में प्रियंका लड़ सकती हैं विधानसभा चुनाव

- Advertisement -
  • रायबरेली या अमेठी की हो सकती है विधानसभा सीट
  • कार्यकर्ताओं में उत्साह, प्रियंका का ज्यादा समय यूपी में

स्टेट डेस्क (विशेष संवाददाता)। यूपी में चुनाव को लेकर कांग्रेस के कार्यकर्ता उत्साहित हैं। उनकी नेता कांग्रेस महासचिव यूपी इंचार्ज प्रियंका गांधी ने विधानसभा चुनाव लड़ने का मन बना लिया है। हालांकि उन्हें सलाह दी जा रही है कि उन्हें दो सीट से लड़ना चाहिए पर प्रियंका गांधी रायबरेली या अमेठी की किसी विधानसभा से चुनाव लड़ सकती हैं। यही कांग्रेस के लिए चुनावी रणनीति प्लान करने वाले प्रशांत किशोर (पीके) की भी उनके लिए यही राय है। प्रियंका के चुनाव मैदान में कूदने की खास वजह यही है कि वह खुद चुनाव भर यूपी के मुख्तलिफ इलाकों में सभाएं व जनसंपर्क करेंगी। यूपी में पार्टी को मजबूत करना उनका मुख्य उद्देश्य है। कांग्रेस करीब 32 साल से यूपी में सत्ता से बाहर है।


प्रियंका गांधी विधानसभा चुनाव लड़ती हैं तो यह शायद पहला मौका होगा जब गांधी परिवार का कोई सदस्य पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ेगा। अमेठी संसदीय क्षेत्र से 2019 में राहुल गांधी की शिकस्त भी प्रियंका को साल रही है। हालांकि कहा जा रहा है कि श्रीमती गांधी ने खुद के चुनाव लड़ने के ऐसे कोई संकेत नहीं दिए हैं लेकिन उनके दफ्तर ने चुनावी तैयारियां शुरू कर दी हैं। रायबरेली और अमेठी से जरूरी आंकड़ें जुटाए जा रहे हैं।


राजनीतिक जानकारों का कहना है कि 2019 के लोकसभा में अमेठी से राहुल के हारने के बाद इस क्षेत्र में कांग्रेस का दबदबा कम हुआ बताया जाता है। सोनिया गांधी भी स्वास्थ कारणों रायबरेली नहीं जा पा रही हैं। ऐसे में प्रियंका गांधी का मैदान में आना लाजिमी है। और पार्टी का यही कदम कांग्रेस को यूपी में मजबूती दिला सकता है। अमेठी और रायबरेली कांग्रेस का गढ़ है जिसे पार्टी नेतृत्व कमजोर नहीं होने देना चाहता है। कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता यही कह रह हैं कि प्रियंका गांधी ही यूपी में कांग्रेस का चेहरा होंगी।


कांग्रेस के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती यही है कि रायबरेली और अमेठी में वह मजबूत पकड़ बनाए रखे। रायबरेली में 1952 से 2019 तक तीन बार हारी है। 1977, 1988, 1996 में यहां से कांग्रेस को शिकस्त मिली है। फिरोज गांधी, इंदिरा गांधी, शीला कौल, अरुण नेहरू, कैप्टन सतीश शर्मा जैसे दिग्गज चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे थे। इसी तरह अमेठी में 1977 में रवींद्र प्रताप नारायन सिंह व 2019 में स्मृति ईरानी चुनाव जीतीं। बाकी 16 दफे कांग्रेस के प्रत्याशी जीतकर जाते रहे।

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -