‘आप’ की महारैली में फिर जुटा विपक्ष, बोले शत्रुघ्न सिन्हा- केजरीवाल मेरे छोटे भाई

0
240

सेंट्रल डेस्क : दिल्ली के जंतर-मंतर पर बुधवार को आम आदमी पार्टी (आप) की ओर से आयोजित ‘तानाशाही हटाओ, लोकतंत्र बचाओ सत्याग्रह’ में विपक्षी नेता एक बार फिर एकजुट हुए. पटना साहिब से बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा भी विपक्ष की रैली में शामिल हुए. रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि मेरा छोटा भाई दिल्ली का मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बहुत दमदार है. साउथ के हीरो चन्द्रबाबू नायडू और हमारी ममता दीदी के इस महागठबंधन को पूरा समर्थन देता हूं. देश और संविधान को बचाना है.

इससे पहले, पिछले महीने कोलकाता में ममता बनर्जी की ओर से आयोजित विपक्ष की रैली में भी शत्रुघ्न सिन्हा शामिल हुए थे. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा था, ‘सच कहना अगर बगावत है तो समझो हम भी बागी हैं. मैं सच के साथ सिद्धांतों से समझौता नहीं कर सकता.’

वहीं पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने महारैली को संबोधित करते हुए कहा, आज संसद का आखिरी दिन है। मोदी सरकार की एक्सपायरी डेट ओवर हो गई है। दिल्ली में आम आदमी पार्टी 7 की 7 सीटें जीतेगी। हमें United India बनाना है, हमें देश को अमित शाह और मोदी से बचाना हैं। वो देश तोड़ना चाहते हैं, हमें देश जोड़ना हैं.

महारैली के दौरान चंद्रबाबू नायडू ने कहा, हमारे केजरीवालजी और ममता जी प्रभावशाली नेता हैं। ये दोनों ही मोदी सरकार द्वारा बिना कारण प्रताड़ित किेए गए। मैं सख्त तौर पर पर नरेंद्र मोदी के बर्ताव की निंदा करता हूं। उन्हें नहीं भूलना चाहिए कि कभी वो खुद एक राज्य के सीएम थे। जब केंद्र हमें प्रताड़ित करती है तो अरविंद केजरीवाल हमसे मिलने वाले पहले शख्स होते हैं। केजरीवाल हमेशा हमारी रक्षा करते हैं, हमें उन्हें सपोर्ट करना चाहिए और देश के लोकतंत्र को बचाना चाहिए।

शरद यादव ने मंच से बोलते हुए कहा कि बीजेपी ने चुनाव को इस तरह का बना दिया है कि आज के समय में अगर लाल बहादुर शास्त्री और जयप्रकाश नारायण चुनाव में खड़े हों तो जीत नहीं पाएंगे। समय आ गया है कि बीजेपी को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाया जाए। भारत को बचाने की जरूरत है।