31.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगसीतामढ़ी : अग्निपथ विरोध दिवस पर राष्ट्रपति के नाम संयुक्त किसान मोर्चा...

सीतामढ़ी : अग्निपथ विरोध दिवस पर राष्ट्रपति के नाम संयुक्त किसान मोर्चा सीतामढ़ी का ज्ञापन

- Advertisement -spot_img

सीतामढ़ी/रविशंकर सिंह। संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यक्रम के तहत24 जून को’अग्निपथ विरोध दिवस’ पर संयुक्त किसान मोर्चा नेता प्रो आनन्द किशोर ने राष्ट्रपति के नाम समाहर्ता सीतामढी को एक ज्ञापन सौंपा।ज्ञापन में राष्ट्रपति से आग्रह किया गया है कि आप देश के मुखिया होने के साथ भारत की सेना के सर्वोच्च कमांडर भी है।

आप किसान तथा जवान के अभिन्न रिश्ते से परिचित है इसलिए हम भारत के जवान और किसान इस उम्मीद के साथ आपसे अपील कर रहे है कि आप “अग्निपथ” योजना से देश,जवान और किसान के भविष्य के साथ होनेवाले खिलवाड को रोकेंगे।

मांगो मे अग्निपथ योजना को अविलम्ब रद्द करने,सेना में पिछले बकाया1,25000 वेकेंसी और इस वर्ष होनेवाले लगभग 60हजार पदों पर पूर्व की तरह नियमित भर्ती शुरू की जाए, जहां भर्ती की प्रक्रिया शुरू हो चुकी थी उसे पूरा किया जाए और पिछले दो साल से भर्ती न होने के एवज मे युवाओ को सामान्य भर्ती की आयु सीमा में 2 वर्ष की छूट दी जाए,किसी भर्ती के लिए आवेदक से ऐसा हलफनामा लेने की शर्त न रखी जाए जो उन्हे प्रदर्शन के अधिकार से वंचित करती हो,अग्निपथ प्रदर्शनो मे शामिल युवाओं के खिलाफ दर्ज सभी झूठे मुकदमे वापस लिए जांऐ, गिरफ्तार युवकों को रिहा किया जाए और आंदोलनकारियों को नौकरी से वाधित करने जैसी शर्तें हटाई जाए।

समाहर्ता को संयुक्त किसान संघर्ष मोर्चा,अभा किसान सभा,जय किसान आन्दोलन, किसान सभा के प्रो आनन्द किशोर,प्रो दिगम्बर ठाकुर, जयप्रकाश राय,जलंधर यदुबंशी, आफताब अंजुम तथा मो गयासुद्दीन के हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन सौंपा गया समाहर्ता ने उसे उचित माध्यम से राष्ट्रपति को भेजने का निर्देश दिया।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -