29.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगरघुवंश बाबू की जयंती पर हो राजकीय समारोह, सरकार निर्णय करें- सुशील...

रघुवंश बाबू की जयंती पर हो राजकीय समारोह, सरकार निर्णय करें- सुशील मोदी

- Advertisement -

पटना: पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह वास्तव में गरीबों की चिंता करने वाले ईमानदार नेता थे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक संवेदनशील व्यक्ति हैं, इसलिए उन्हें रघुवंश बाबू की जयंती-पुण्यतिथि को राजकीय रूप से मनाने पर विचार करना चाहिए। जिन लोगों ने जीवन काल में रघुवंश प्रसाद सिंह को “एक लोटा पानी” बताकर अपमान किया, उनके दल को सरकार से कोई मांग करने का हक नहीं। उन्हें तो प्रायश्चित करना चाहिए।

रघुवंश प्रसाद सिंह ने यूपीए 1 में केंद्रीय मंत्री के नाते गरीबों को साल में 100 दिन रोजगार सुनिश्चित करने वाली योजना मनरेगा को लागू कराया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कल्याणकारी योजना को न केवल जारी रखा, बल्कि इसे और व्यापक तथा पारदर्शी बना कर उनका सम्मान किया।

रघुवंश बाबू ने राजद के अंध भाजपा-विरोध को दरकिनार कर ऊंची जाति के गरीबों को 10 फीसद आरक्षण देने के सरकार के निर्णय का समर्थन किया था। उनके लिए दल से बड़ा था गरीबों का हित। ऐसे व्यक्ति की पहली पुण्यतिथि पर उन्हें सादर नमन!

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -