मंत्री ने कहा- डिग्री कॉलेज के लिए भूमि की जमाबंदी शिक्षा विभाग के नाम करने को डीएम करेंगे निर्देशित

बेगूसराय/विनोद कर्ण: विधान पार्षद रजनीश कुमार द्वारा बिहार विधान परिषद् के 197वें सत्र में तारांकित प्रश्न के माध्यम से बेगूसराय जिला के बखरी अनुमण्डल मुख्यालय में डिग्री कॉलेज की स्वीकृति मिलने के बाद भी निर्माण कार्य प्रारम्भ नहीं होने का मामला उठाया गया। श्री कुमार द्वारा विभागीय मंत्री से पूछा गया कि बिहार राज्य शैक्षणिक आधारभूत संरचना विकास निगम लिमिटेड के द्वारा 7 अक्टूबर 2014 को 5 करोड़ 31 लाख 67 हजार की लागत से कॉलेज निर्माण के लिए टेंडर भी निकाला गया था इसके बावजूद कॉलेज का निर्माण आज तक शुरू नहीं हो पाया है।

फलस्वरुप इन्टर पास करने के बाद इस इलाके के विद्यार्थी को दाखिले के लिए दर-दर भटकना पड़ता है।प्रश्न का उत्तर देते हुए बिहार सरकार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी द्वारा बताया गया कि विभागीय स्वीकृत्यादेश संख्या-43 दिनांक:- 30-08-2013 द्वारा कुल रुपये 5,46,58,505/- रुपये की स्वीकृति भवन निर्माण विभाग को दी गई थी, परन्तु जिला पदाधिकारी, बेगूसराय द्वारा इस निमित पूर्व में चिन्हित भूमि का हस्तांतरण नहीं होने के कारण कॉलेज का भवन निर्माण योजना का कार्य शुरू नहीं हो सका है।

विधान पार्षद रजनीश कुमार द्वारा विभागीय मंत्री से आग्रह किया गया कि उक्त चयनित भूमि की जमाबन्दी शिक्षा विभाग के नाम पर करने के लिए शीघ्र पुनः निदेशित किया जाय ताकि डिग्री महाविद्यालय के निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो सके इस पर शिक्षा मंत्री द्वारा आश्वासन दिया गया कि शीघ्र ही इसके लिए जिला पदाधिकारी को निदेशित किया जाएगा तथा जमीन की जमाबन्दी शिक्षा विभाग के नाम होते ही बखरी में डिग्री महाविद्यालय के भवन का निर्माण कार्य प्रारम्भ हो जाएगा।विधान पार्षद उप मुख्य सचेतक सत्तारुढ़ दल, बिहार विधान परिषद् रजनीश कुमार ने सदन में इस हेतु शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है।