सत्ता के बिना जिनकी छाती फट रही है, वे तबादले में भी सियासत देख रहे हैं- सुशील कुमार मोदी

पटना: सुशील मोदी ने कहा कि बिहार में भाजपा और जदयू के बीच लगभग दो दशक पुरानी दोस्ती से जलने वाले तत्वों की वजह से हमारे बीच एक बुरा दौर आया और गुजर गया। हमें जनता ने जब फिर सेवा का मौका दिया,तो विपक्ष की छाती फटने लगी।

सजायाफ्ता लालू प्रसाद रांची रिम्स के पेइंग वार्ड से जेल नियमों का उल्लंघन कर मोबाइल फोन के जरिये लगातार राजद नेताओं को निर्देश देकर जोडतोड को बढावा दे रहे हैं। जिन लोगों ने ट्रांसफर-पोस्टिंग को कमाई का जरिया बना लिया था, वे मलाई न मिलने के कारण आज रुटीन प्रशासनिक काम को भी राजनीतिक रंग देना चाहते हैं।

एनडीए में परस्पर सम्मान और विश्वास के मजबूत आधार पर काम करते हुए दोनों दलों ने मिल कर बिहार को जंगलराज से उबार कर विकास की दर दहाई अंकों में बनाये रखी। राज्य को लालटेन युग से बाहर लाकर हर गांव को बिजली पहुँचायी गई। कृषि रोड मैप लागू किया गया।

राज्य को उच्च शिक्षा के नये-नये संस्थान मिले। सरकार अब 20 लाख लोगों को रोजगार देने की योजना पर काम कर रही है। उद्योग विभाग सिंगल विंडो सिस्टम शुरू करने जा रहा है। दूसरी तरफ कुछ लोग विकास की लय तोडने के लिए बयानबाजी कर रहे हैं।