27.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगबिहार में कोरोना के साथ AES का भी कहर, चमकी बुखार से...

बिहार में कोरोना के साथ AES का भी कहर, चमकी बुखार से दो बच्चों की मौत

- Advertisement -

स्टेट डेस्क/पटना : कोरोना संकट के बीच बिहार में चमकी बुखार यानी इन्सेफ्लाइटिस से दो बच्चों की मौत हो गई है। मुजफ्फरपुर के औराई की 8 वर्षीया बच्ची और सकरा की 8 साल की बच्ची ने गुरुवार को दम तोड़ दिया। ये दोनों PICU में भर्ती थे। मुजफ्फरपुर में अबतक कुल 6 बच्चों की मौत हो चुकी है, जबकि कुल 23 बच्चे अबतक AES से बीमार हुए हैं।

एसकेएमसीएच के पीआईसीयू वार्ड में तीन घंटे के अंदर दो बच्ची की मौत हो गई। इसमें एईएस से पीड़ित औराई के कल्याणपुर गांव के नंदू राय की आठ वर्षीय पुत्री चांदनी कुमारी की मौत बुधवार की देर रात 12:40 बजेे हो गई। उसे 11 मई की सुबह चमकी-बुखार होने पर भर्ती कराया गया था। डाॅक्टर ने उसमें एईएस की पुष्टि की थी।

वहीं, सकरा के संजय मांझी की 12 वर्षीय पुत्री रवीना कुमारी की भी मौत हो गई। उसे चमकी-बुखार के लक्षण के बाद 10 मई को भर्ती कराया गया था। प्रभारी अधीक्षक डाॅ. सुनील कुमार शाही ने मौत की पुष्टि की है। इस तरह एईएस से यह पांचवीं मौत है। वहीं, पीआईसीयू वार्ड में गुरुवार को चमकी-बुखार के लक्षण से पीड़ित होने पर पांच बच्चों को भर्ती किया गया।

इनमें अहियापुर का अभिमन्यु कुमार, पटियासा की सोनम कुमारी, वैशाली के महुआ का पिंटू कुमार, मोतिहारी के केसरिया का आदर्श कुमार व गायघाट की माही कुमारी शामिल हैं। सभी बच्चों में चमकी बुखार के लक्षण पाए गए। रिपोर्ट आने के बाद बीमारी की पुष्टि की जाएगी।

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -