उन्नाव में किशोरियों की मौत : एक तरफा प्यार में पागल युवक ने घटना को दिया अंजाम , साथी गिरफ्तार

उन्नाव (अजय ) : एकतरफा प्यार में पागल युवक ने अपने साथी की मदद से तीनों युवतियों को जहर पिलाया जिससे दो की मौत हो गई ।एक अभी जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है । जिला पुलिस ने अथक प्रयास कर किशोरियों की मौत के मामले का खुलासा कर दिया है पुलिस के मुताबिक एक तरफा प्यार में पागल पड़ोसी गांव पाठकपुर के युवक ने पानी में जहरीला पदार्थ देकर दो किशोरियों को मौत के मुंह मे झोंक दिया ।



घटना के कसूरवार युवक और उसके नाबालिग साथी को गिरफ्तार कर लिया गया है ।गिरफ्तार युवक ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। उसने अपने बयान में बताया है कि कोरोना के चलते लाॅकडाउन के दौरान उसे उस युवती से प्यार हो गया था जो इलाज के लिए कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में भर्ती है ।

उक्त युवती ने उसे हिकारत से जवाब देते हुए मांगने पर अपना मोबाइल फोन नंबर देने से भी इन्कार कर दिया। इसी बात से आहत होकर बदला लेने की ठान ली और घटना को अंजाम दिया। आइजी लक्ष्मी सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि पाठकपुर गांव निवासी युवक विनय उर्फ लंबी अक्सर युवती के गांव आता जाता था ।

लाॅकडाउन के दौरान उसने रीजेंसी में भर्ती किशोरी को देखा । पहली नजर में ही उसे किशोरी से प्यार हो गया । उसने कई दफा किशोरी से बात करने का प्रयास किया लेकिन उसने अनदेखी कर दिया ।लेकिन वह हार नहीं माना और लगातार प्रयास करता रहा ।

आइजी के मुताबिक विनय ने घटना के कई दिन पहले किशोरी से फिर प्यार का इजहार करते हुए मोबाइल फोन नंबर मांगा। लेकिन उसे फटकार दिया। उसे यह बात बुरी लगी और उसने घटना वाले दिन किशोरी को बात करने के लिए खेत की तरफ बुलाया।

उसकी बात पर किशोरी अपनी रिश्ते की चचेरी बहन और भतीजी को साथ लेकर शाम को खेत पर गई जहां विनय पहले से ही पानी की बोतल और चिप्स का पैकेट लेकर पहले से मौजूद था । तीनों के पहुंचते ही विनय उन्हें अपने खेत की तरफ ले गया और उनसे बात करने लगा। इस दौरान उसने उन्हें चिप्स खाने के लिए दिया लेकिन उसने खाने से मना कर दिया।

इसपर विनय ने जहरीला पदार्थ मिला कर साथ लाए पानी की बोतल आगे बढ़ाते हुए कहा कि कम से कम पानी ही पी लो। उसकी बातों में आकर किशोरी ने पहले पानी पिया और फिर साथ रही दिवंगत दोनों किशोरियों ने भी उसी बोतल से मांग कर पानी पी लिया। पानी पीते ही तीनों की हालत बिगड़ने लगी और एक के एक करके तीनों वहीं खेत पर गिर गई।

तीनों के अचेत अवस्था में आ जाने के बाद विनय ने पहले से वहीं पास में मौजूद अपने साथी की मदद से तीनों को वहां से हटाकर दूसरे स्थान पर फेंक कर भाग निकला। इसी के बाद खोजते हुए वहां पहुंचे स्वजन व ग्रामीणों की मरणासन्न हाल में पड़ी किशोरियों पर नजर पड़ी। इसके बाद पूरे गांव में शोर मच गया।