32.1 C
Delhi
Homeउत्तर प्रदेशबाराबंकी: किसान ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

बाराबंकी: किसान ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

- Advertisement -

शोभित शुक्ला

रामनगर-बाराबंकी। पिछले कई दशकों से यूपी ही नहीं पूरे देश के किसानों की हालत दयनीय है। सरकारें उनके उत्थान के लिए वादें तो करती हैं, लेकिन उन्हें जमीन पर उतारने के बजाए कागजों में दौड़ाया जाता है। प्रदेश के सीएम की शपथ लेने के बाद योगी आदित्यनाथ ने किसानों का कर्जामाफी का ऐलान कर सीमान्त किसानों के चेहरों पर ख़ुशी लाने का काम किया था। लेकिन सरकार के महज दो साल बाद पूरे विश्व मे कोविड-19 वायरस का ऐसा कहर रहा कि अति पिछड़े किसानों का परिवार आर्थिक संकट से गुजर रहा है। ऐसे में आए दिन कोई न कोई किसान फाँसी को चढ़ जाता है।

ऐसा ही एक मामला जिले के तहसील क्षेत्र रामनगर अंतर्गत लोहारन पुरवा मजरे जुरौन्डा का है। जहां रहने वाले 45 वर्षीय सरबजीत लोध पुत्र खेलावन ने आवारा बन्दर के रोटी खाने से दुखी होकर अपनी बेटी पर नाराज हुआ और फिर उसी गांव के रहने वाले गोपाल खेत मे लगे पेड़ से फाँसी लगाकर जीवन लीला समाप्त कर दी।

घटना की सूचना पर मौके पर पहुँची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।दिनदहाड़े हुई इस हृदय विदारक घटना से पूरे गांव में हड़कंप मच हुआ है। वहीं इस ह्रदयविदारक घटना को सुनकर परिवार के लोगों का रो- रोकर बुरा हाल है। ग्रमीणों से बात करने पर पता चला कि पैसे की कमी के चलते म्रतक सरबजीत दिमाकी तौर से बहुत परेशान रहता था। उसका 4लड़को व एक लड़की का हंसता-खेलता परिवार था।

यह भी पढ़ें…..

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -