Big action :वाहन पर जातिसूचक स्टीकर लगाने में फंस गए कानपुर के सक्सेना जी

स्टेटडेस्क/ लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर उत्तर प्रदेश में वाहनों पर जातिसूचक स्टीकर लगाने के खिलाफ छेड़े गए अभियान में कानपुर के एक सक्सेना जी धरा गए। प्रधानमंत्री कार्यालय के पत्र के बाद मुख्यमंत्री के निर्देश पर परिवहन विभाग ने यह अभियान शुरू किया है।



जिसके तहत वाहनों पर जाति लिखने पर कार्यवाही की जा रही है। लखनऊ के दुर्गापुरी चौक पर ऐसे ही एक वाहन का चालान काटा गया है। कानपुर नंबर की गाड़ी पर जाति लिखी गई थी, जिसके बाद लखनऊ के नाका थाना क्षेत्र में पहला चालान किया।

उत्तर प्रदेश में अब दोपहिया और चौपहिया वाहनों की नंबर प्लेट और विंड स्क्रीन पर अपनी जाति की पहचान के तौर पर कोई स्टीकर नहीं लगाया जा सकेगा और अगर कोई ऐसा करते पाया गया, तो उसके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। विभाग द्वारा जारी आदेश में ऐसा पाये जाने पर वाहन जब्त कर लिया जाएगा। प्रदेश में वाहनों पर जाति लिखने का प्रचलन काफी तेजी से बढ़ रहा है।

आपको बता दें कि, महाराष्ट्र के एक शिक्षक ने प्रधानमंत्री को इस संबंध में खत लिखा था। प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस पर तुरंत एक्शन लेते हुये प्रदेश सरकार को ये शिकायत भेज दी।