31.1 C
Delhi
HomeNewsएटीएस का बड़ा खुलासा : अलकायदा के आतंकियों ने कानपुर से खरीदी...

एटीएस का बड़ा खुलासा : अलकायदा के आतंकियों ने कानपुर से खरीदी थी पिस्टल

- Advertisement -

13 जुलाई 2021, स्टेट डेस्क/दिवाकर श्रीवास्तव। लखनऊ में पकड़े गए आतंकी संगठन अलकायदा के आतंकियों ने एटीएस की पूछताछ में खुलासा किया है कि उन्होंने कानपुर के चमनगंज इलाके से पिस्टल खरीदी थी।

सूत्रों के मुताबिक पिस्टल बेचने वाले और बिचौलिए दोनों को एटीएस ने हिरासत में ले लिया है। पूछताछ जारी है। जल्द इनकी गिरफ्तारी संभव है। आशंका ये भी है कि बरामद अन्य असलहा व बारूद भी कानपुर से ही सप्लाई किया गया है। उल्लेखनीय है कि एटीएस ने रविवार को लखनऊ के ठाकुरगंज थाना क्षेत्र के दुबग्गा इलाके से अलकायदा के दो आतंकी मिनहाज अहमद और मसीरुद्दीन उर्फ मुशीर को गिरफ्तार किया था। उनके ठिकाने से कुकर बम, विस्फोटक, आईईडी और एक पिस्टल बरामद हुई थी।

सूत्रों के मुताबिक आतंकियों ने पूछताछ में बताया कि बरामद पिस्टल उन्होंने चमनगंज से एक शख्स से खरीदी थी। इसके लिए एक मुश्त रकम असलहा बेचने वाले को दी थी। खरीदारी खुद आतंकियों ने कानपुर जाकर की थी। सौदा कराने वाले का नाम भी आतंकियों ने बताया है। इधर, एटीएस ने एक हिस्ट्रीशीटर को उठाया है। जानकारी के मुताबिक पिस्टल इसी हिस्ट्रीशीटर ने आतंकियों को दी थी। अब जांच में पता चलेगा कि हिस्ट्रीशीटर ने खुद पिस्टल बेची थी या किसी दूसरे से दिलाई थी। 

पहले लखनऊ और फिर कानपुर को निशाना बनाना आतंकियों की साजिश थी। हालांकि जांच एजेंसी ने इनके मंसूबों को नाकाम कर दिया। एटीएस की जांच में पता चला है कि पकड़े गए आतंकी कानपुर में रेकी करने आए थे। करीब एक महीने तक यहां नई सड़क के पास होटल में ठहरे थे। इसी दौरान घूमते वक्त उनकी मुलाकात बिल्डर व अन्य लोगों से हुई। बातचीत हुई तो आतंकियों की तरफ उनका झुकाव होने लगा। धीरे-धीरे वह भी आतंकियों के साथ शामिल हो गए।

यह भी पढ़ें…

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -