कानपुर में मतगणना के लिए 7320 कर्मीयो को हुआ प्रशिक्षण

कानपुर/आशुतोष त्रिपाठी । कानपुर में दो मई को पंचायत चुनाव के मतों की गिनती होनी है। जो 10 मतगणना केंद्रों पर 98 कक्षों में होगी। आपको बता दे कि पहले 90 कमरे थे लेकिन कोरोना गाइडलाइंस को देखते हुए आठ कमरे और बढ़ा दिए गए हैं। मतगणना में 7320 कर्मचारियों की तैनाती होगी जिसमे से 10 फीसदी कर्मचारी आरक्षित रहेंगे। अगर कोई कार्मिक बीमार या अनुपस्थित हो तो आरक्षित कर्मचारियों की ड्यूटी लगेगी।


कानपुर में 590 ग्राम प्रधान पद व 32 जिला पंचायत सदस्य पद साथ ही क्षेत्र पंचायत सदस्य और ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए चुनाव 15 अप्रैल को हुआ था। मतों की गिनती के लिए तैनात कर्मचारियों का प्रशिक्षण पॉलिटेक्निक में किया जा रहा है। कर्मचारियों की मतों की गिनती का प्रशिक्षण के साथ कोरोना संक्रमण से बचने के लिए समझाया जा रहा है। वही जनपद में बिल्हौर में बाबा रघुनंदन दास इंटर कॉलेज, शिवराजपुर में राम सहाय इंटर कॉलेज, चौबेपुर में पंडित रामकुमार विद्यापीठ इंटर कॉलेज, ककवन में डीपीएस नेहरू इंटर कॉलेज, सरसौल में जवाहर नवोदय विद्यालय, बिधनू में राजकीय इंटर कॉलेज, कल्याणपुर में राजकीय इंटर कॉलेज भौंती,

घाटमपुर में कैप्टन सुखवासी सिंह इंटर कॉलेज, पतारा में नेहरू इंटर कॉलेज, भीतरगांव में पंडित बेनी सिंह इंटर कॉलेज आदि में मतगणना की जाएगी। प्रत्येक कमरे में चार- चार टेबल लगाई जाएंगी। एक टेबल पर मतपत्र पद छांटे जाएंगे फिर तीन टेबलो पर उनकी गणना होगी। हर एक टेबल पर एक मतगणना पर्यवेक्षक व तीन मतगणना कार्मिकों और एक मतगणना सहायक की तैनाती होगी। जिसमे 50- 50 के बंडल बनाकर मतों की गणना की जाएगी। हर कमरे में जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायत सदस्य, प्रधान पद के सहायक अफसर भी बैठेंगे। मतगणना कार्मिकों की ड्यूटी दो शिफ्टों में होगी। सुबह आठ बजे से रात आठ बजे तक और फिर रात आठ बजे से सुबह आठ बजे तक की शिफ्ट होगी।