एडीजी अविनाश चन्द्र का दो वर्षीय कार्यकाल बेमिसाल

बिजनौर/दिवस पाण्डेय : अपर पुलिस महानिदेशक बरेली ज़ोन अविनाश चन्द्र का लगभग दो साल से अधिक का कार्यकाल पूरे जोन में इतना बेमिसाल रहा है कि जिसकी जितनी प्रशंसा की जाये उतनी कम है। उनके दिशा निर्देशन में एक तरफ तो पुलिस ने अपराध में नियंत्रण किया तो वही दूसरी तरफ अपराधियो की धर पकड़ में तेज़ी लाने का काम किया, जिसके चलते पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल की है।

विगत चार सालो मे चोरी , हत्या, बलात्कार, फिरौती आदि आपराधिक घटनाओ मे इतनी तेजी से गिरावट आई है कि पूरे बरेली जोन मे घटनाओ का ग्राफ 30-40 परसेंट का पहुँच गया। नारी सशक्तिकरण के लिए कई तरह की टीमो का गठन कर महिलाओ के साथ होने वाले अपराधों में कमी दर्ज की गई। महिला अपराध नियंत्रण के लिए एन्टी रोमियो स्क्वायड टीमो को स्कूल कॉलेजो के आस पास लगाकर छात्राओ के साथ मलचलो द्वारा की जाने वाली छेड़छाड़ को नियंत्रण मे लाते हुए कमी लाई गई।

लव जिहाद के मुद्दे को लेकर कड़ी कार्यवाही करते हुए इस तरह के मामलों में भारी गिरावट देखी गई, 172 थानों पर महिला हेल्प डेस्क का गठन किया गया| जिससे महिलाओ को इंसाफ मिलने में किसी तरह की कोई परेशानी या रुकावट न हो सके। वहीं महिला अपराध लव जिहाद रोकना है, तो प्रदेश में लागू किए गए तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश 2020 के अंतर्गत देश प्रदेश का पहला अभियोग बरेली जोन के थाना देवरनिया बरेली पर पंजीकृत कर अभियुक्त उवैस अहमद पुत्र रफीक अहमद निवासी शरीफ नगर थाना देवरनिया बरेली को अपराध संख्या 361/2020 धारा 504/506भादवि वह 3/5उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध सम परिवर्तन अध्यादेश 2020 के अंतर्गत जेल भेजा गया| महिलाओं बालिकाओं से छेड़छाड़ रोकना है, तो जॉन के सभी स्थानों पर एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन किया गया सभी जनपदों में एंटी रोमियो स्क्वाॅड का गठन कर 23 मार्च 2017 से अब तक एंटी रोमियो स्क्वाॅड की विभिन्न टीमों द्वारा 46 1234 स्कूल कॉलेजों व 1095510 संदिग्ध व्यक्तियों को चेक किया जा चुका है| इस कार्रवाई के दौरान अभियोग पंजीकृत कर 1086 व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया तथा 156601  व्यक्ति को चेतावनी दी गई है मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत बरेली जोन के सभी 172 थानों पर महिला हेल्प डैस्क का गठन किया गया।