30.1 C
Delhi
Homeउत्तर प्रदेशकानपुरकांग्रेसः करिश्मा ठाकुर बुंदेलखंड जोन की महिला कांग्रेस अध्यक्ष नियुक्त

कांग्रेसः करिश्मा ठाकुर बुंदेलखंड जोन की महिला कांग्रेस अध्यक्ष नियुक्त

- Advertisement -

गोविंदनगर विस क्षेत्र में खेला होबे, दावेदारों को किसने उलझाया
पूर्व प्रत्याशी शैलेंद्र को पहले ही दक्षिण क्षेत्र का अध्यक्ष बनाया
करिश्मा व शैलेंद्र दीक्षित विरोधी दावेदारों को रास्ता खुलता दिखा

कानपुर (सिटी डेस्क) 12 जुलाई। कांग्रेस ने महिला कांग्रेस कमेटी को उत्तर प्रदेश में पांच जोनों में बांटकर अध्यक्ष पद पर नेताओं की नियुक्ति कर दी है। इसी कड़ी में गोविंदनगर विधानसभा क्षेत्र की पूर्व प्रत्याशी करिश्मा ठाकुर को बुंदेलखंड जोन का अध्यक्ष बनाया गया। करिश्मा के मनोनयन से गोविंदनगर विधानसभा क्षेत्र में दावेदारों की बांछे खिल उठी। वह गोविंदनगर विधानसभा क्षेत्र से उप चुनाव लड़ चुकी हैं और अच्छे-खासे वोट पाकर पराजित हुई थी।

बताते हैं कि इससे पहले पूर्व प्रत्याशी डा.शैलेंद्र दीक्षित संगठन में समायोजित करते हुए कानपुर दक्षिण क्षेत्र का अध्यक्ष पद देकर दावेदारी हल्की करर दी गयी। शैलेंद्र 2012 में भाजपा के सत्यदेव पचौरी से चुनाव हार गए थे। दूसरे चुनाव में अंबुज शुक्ला कांग्रेस से लड़े थे। उन्हें भी पचौरी ने हरा दिया था। बाद में 2019 में सत्यदेव पचौरी को कानपुर संसदीय क्षेत्र से भाजपा ने टिकट दिया था। वह जीतकर लोकसभा पहुंच गए।

गए साल गोविंदनगर विस क्षेत्र में उपचुनाव कांग्रेस ने शैलेंद्र और अंबुज की दावेदारी को खारिज करते हुए दिल्ली विवि छात्र संघ की एनएसयूआई से सेक्रेटरी चुनी गयी थी। उन्हें प्रियंका गांधी का करीबी समझा जाता है। महिला कांग्रेस के संगठन को उत्तर प्रदेश में पांच जोनों में बांटा गया। पांचों में अध्यक्ष पद पर तैनाती कर दी गयी है। शाहिया आहरारी को पूर्वी जोन, स्वपनिल शर्मा को पश्चिमी जोन, ममता चौधरी सेंट्रल जोन, शबाना खंडेलवाल आगरा जोन व करिश्मा ठाकुर को बुंदेलखंड जोन का अध्यक्ष बनाया गया।

महिला कांग्रेस का संगठन का प्रस्ताव प्रदेश अध्यक्ष ने भेजा था जिसे कायर्यकारी अध्यक्ष की मंजूरी के बाद केसी वेणुगोपाल के दस्तखत से जारी किया गया। उधर कहा जाता है कि गोविंद नगर विस क्षेत्र से मजबूत दावेदारों को किनारे लगा दिया गया। यह भी कहा जा रहा है कि गोविंदनगर विस क्षेत्र में टिकट का नया खेला होबे। इस खेल के पीछे कौन हो सकता है, यह कहना मुश्किल है पर अंदाजा हर कांग्रेसी लगाने में जुटा है।

करिश्मा ठाकुर के राजनीतिक सलाहकार वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजेश सिंह ने बताया कि करिश्मा को चुनाव लड़ने को हरी झंडी मिल चुकी है। यह उसे अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। महिलाओं का लगातार बढ़ता मतदान प्रतिशत को देखते हुए संगठन को करिश्माई नेता की जरूरत है तो करिश्मा ठाकुर को यह जिम्मेदारी दी गयी।

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -