KANPUR : नौबस्ता की गल्लामंडी में कमिश्नर ने पकड़ा घटतौली का खेल

कानपुर/अखिलेश मिश्रा : मंगलवार को कमिश्नर औचक निरीक्षण पर नौबस्ता स्थित गल्ला मंडी पहुंच गये। निरीक्षण के दौरान अधिकारी गेहूं क्रम केन्द्र में लगी मशीन को स्वंय खड़े होकर चेक किया तो सारा खेल खुलकर सामने आ गया था। कमिश्नर का वजन 84 किलो का है वह 3 किलो घटकर 81 किलो रह गया।

वजन कम बताने पर कमिश्नर ने क्रय केन्द्र के प्रभारी को बुलाया और पूछा। प्रभारी ने मशीन खराब होने की बात कहकर बचने का प्रयास किया। लेकिन घटतौली के खेल को मंडलायुक्त ने समझ लिया और जमकर क्लास लगायी।

कमिश्नर ने चेतावनी देते हुए मशीन ठीक कराने का आदेश देते हुए कहा कि किसान की नापतौल में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जायेगी। पिछले काफी दिनों से मंडलायुक्त राजशेखर को मंडी में घटतौली होने की जमकर शिकायतें मिल रही थी।

घटतौली व लापरवाही की स्थिति को देखने के लिए मंगलवार को कमिश्नर नौबस्ता की गल्ला मंडी पहुंच गये। अधिकारी आने की सूचना मिलते ही पूरा मंडी प्रशासन एलर्ट मोड में आ गया। अधिकारी ने घूम-घूमकर पूरी मंडी का निरीक्षण किया। चेकिंग के दौरान मंडलायुक्त गेंहूं केन्द्र पहुंच गये।

यहां पर लगी तौल मशीन पर जाकर अचानक मशीन की जांच के लिए स्वंय ही खडे हो गये। मशीन ने अधिकारी का वजन 81 किलो दिखाया, जबकि वास्तव में उनका वजन 84 किलो था। तीन किलो वनज कम होते ही अधिकारी ने प्रभारी से पूछा यह क्या है। इस पर वहां मौजूद सभी अधिकारी चुप्पी साध गये।

कमिश्नर ने घटतौली की स्थिति समझकर जमकर सभी को डांट लगायी और कहा कि सुधर जाएं। किसानों से साथ किसी भी प्रकार की अनियमितता बर्दास्त नहीं की जायेगी। तत्काल मशीन को अपडेट कराएं। वरना सख्त कारवाई होगी। इसके बाद कमिश्नर ने नौबस्ता की गेहूं खरीद चार केन्द्रों का निरीक्षण किया।