29.1 C
Delhi
Homeउत्तर प्रदेशकानपुरकानपुर : समिति के अध्यक्ष डॉ सुरेश चंद्र गुप्ता की सेवानिवृत्त पर...

कानपुर : समिति के अध्यक्ष डॉ सुरेश चंद्र गुप्ता की सेवानिवृत्त पर हुआ सम्मान समारोह

- Advertisement -

कानपुर/प्रशांत मिश्रा : उत्तर प्रदेश अधिकारी महापरिषद एवं अधिकारियों एवं कर्मचारियों के संयुक्त महामंच-कर्मचारी कल्याण समन्वय समिति के अध्यक्ष डॉ सुरेश चंद्र गुप्ता की राजकीय सेवानिवृत्त पर आयोजित भव्य सम्मान समारोह आज मर्चेन्ट चैम्बर आफ कॉमर्स, कानपुर में कर्मचारी कल्याण समन्वय समिति के कार्यकारी अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह की अध्यक्षता में सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ।

सर्वप्रथम स्वागताध्यक्ष अरविंद त्रिवेदी, अध्यक्ष-आयकर राजपत्रित अधिकारी संघ ने डॉ गुप्ताजी के बारे में कहा कि उनके नेतृत्व में सारे अधिकारी कर्मचारी संघो को मिलाकर दिशा दिखाने का काम कर रहे है। इस अवसर पर मुख्य अथिति के रूप में लखनऊ से पधारे उप्र अधिकारी महापरिषद के संरक्षक एसएस फारूकी ने कहा कि नेता कभी रिटायर नहीं होता, पहले से अधिक डॉ सुरेश चंद्र गुप्ता आप लोगों के लिये समय दे सकेंगे।

इसके अतिरिक्त उप्र अधिकारी परिषद के प्रधान महासचिव एसके सिंह, वरिष्ठ उपाध्यक्ष आरके सिंह, साझा मंच के संयोजक अशोक तिवारी, कर्मचारी कल्याण समन्वय समिति के महामंत्री एवं केंद्रीय नेता शरद प्रकाश अग्रवाल, समन्वय समिति के उपाध्यक्ष एवं बैंक नेता रजनीश गुप्ता, सुधीर सोनकर, राज्य कर्म संयुक्त परिषद के जिला अध्यक्ष राजा भरत अवस्थी, पीडब्ल्यूडी के मुख्य अभियंता इंजी एसएस निरंजन, इंजी आशीष यादव, वरिष्ठ कर्मचारी नेता इंद्रासन सिंह आदि ने अपने विचार रखे।

सम्मान समारोह का सफल संचालन समन्वय समिति के उपाध्यक्ष एवं बीमा नेता राजीव निगम द्वारा किया गया।
इस समारोह में इसके अलावा पीडब्ल्यूडी के इंजी एएन द्विवेदी, डॉ अनिल चतुर्वेदी, डॉ एके सक्सेना, भा स्टेट बैंक अधिकारी संघ के अध्यक्ष एसएस भाटिया एवं मुख्य क्षेत्रीय सचिव अरविंद द्विवेदी, मा.शिक्षक संघ के जिला मंत्री सर्वेश तिवारी, रेलवे से रामशंकर, योगेश ठाकुर, धीरेंद्र मौर्य,

वरिष्ठ केंद्रीय नेता आरके गुप्ता, महेंद्र तिवारी, एसके सिंह, डॉ एसआरयादव, डॉ आरके चौधरी, अरुण मिश्र, मनोज श्रीवास्तव, राजेश तिवारी, हरीश श्रीवास्तव, अरुण मिश्र, संतोष तिवारी, प्रत्यूष द्विवेदी आदि अच्छी संख्या में अधिकारी कर्मचारी संघो के प्रतिनिधियों के साथ परिजन एवं शुभचिंतक लोग रहे।

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -