27.1 C
Delhi
Homeउत्तर प्रदेशकानपुरKanpur/Lockdown : आवश्यक सेवा की ही एकल दुकानें खुलेंगी, लीजिये पूरी जानकारी

Kanpur/Lockdown : आवश्यक सेवा की ही एकल दुकानें खुलेंगी, लीजिये पूरी जानकारी

- Advertisement -

कानपुर/श्रीकांत : कानपुर में लॉक डाउन के चलते व्यापार की स्थिति दयनीय हो चली है। जिलाधिकारियों ने अपने अपने जिले एकल दुकानों को खोलने के आदेश जारी किये है। इसी क्रम में कानपुर के डीएम के आदेश को लेकर मंगलवार को व्यापारी वर्ग में असमंजस में गए।

बाजारों के दुकानदार अपनी-अपनी दुकानें खोलने के लिए पहुंच गए। अफीमकोठी लोहा बाजार के अलावा दक्षिण क्षेत्र में मिठाई और कन्फेक्शनरी की दुकानें लोगों ने खोल दीं।

डीएम के आदेश में वही एकल दुकानें खुलेंगी जो आवश्यक सेवा में आती हैं। जैसे कि मोहल्लों के जनरल स्टोर, दवा, दूध डेयरी की दुकानें ही तय समय के अनुसार खुलेंगी।

कानपुर होटल, गेस्टहाउस, स्वीट्स एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के महामंत्री राजकुमार भगतानी ने बताया कि आदेश में मिठाई आदि की दुकानें खोलने का जिक्र नहीं है।

व्यापारी भ्रम में दुकानें न खोलें :

कानपुर इलेक्ट्रिक कॉन्ट्रैक्टर्स एंड मर्चेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव मेहरोत्रा का कहना है कि इलेक्ट्रिक की वही दुकानें खोली जा सकेंगी, जो अलग-अलग क्षेत्रों में स्थित हैं। मनीराम बगिया के थोक बाजार को खोलने के संबंध में अभी आदेश नहीं आया है।

हालांकि जिला प्रशासन को सुझाव दिया गया है कि शहर में प्रतिदिन कोरोना के मामले आ रहे हैं। ऐसे में एकल दुकानें खोलना भी खतरनाक हो सकता है।

कानपुर युवा उद्योग व्यापार मंडल के महामंत्री संत मिश्रा ने बताया कि दुकानों को खोलने के संबंध में सुबह से ही व्यापारियों के फोन आने लगे थे। अलग-अलग क्षेत्रों के कई दुकानदारों ने अपनी-अपनी दुकानें खोल भी दीं गई है, लेकिन बाद में बंद कर दी गई।

कॉपी किताबों की भी वही दुकानें खुलेंगी जो अलग-अलग क्षेत्रों में स्थित हैं। इसके मायने ये हैं कि परेड, चौक की थोक बाजार अभी बंद रहेंगे। कानपुर पुस्तक उद्योग व्यापार मंडल के अध्यक्ष संतोष गुप्ता ने मांग उठाई है कि परेड का थोक बाजार भी खोला जाए।

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -