कानपुर में फिर ख़ाकी पर लगे दाग, बिधनू पुलिस पर लूट का आरोप

कानपुर/दिवस पाण्डेय : बिधनू थाना क्षेत्र के विनगवा इलाके में रहने वाली महिला ने बिधनू पुलिस पर लूट का आरोप लगाया है। महिला का कहना है कि पुलिस ने उनके यहां दबिश दी और लाखों की नकदी व जेवर उठा ले गयी। महिला ने पूरे प्रकरण की शिकायत एसएसपी राष्ट्रीय महिला आयोग से की है। उधर इस मामले में पुलिस का कहना है कि महिला के पति का न्यायालय से गैर ज़मानती वारंट था, जिसे तामील कराने थानाध्यक्ष फोर्स के साथ गए थे| वही एसएसपी ने मामले की जाँच सीओ घाटमपुर को दी है।



शनिवार को अशोक नगर स्थित कानपुर जर्नलिस्ट क्लब की प्रेस वार्ता में पीड़िता रिंकी यादव ने बताया कि उनके पति के ऊपर कुछ पुराने मुकदमें न्यायालय में लंबित थे, जिसके बाद पिछले सात-आठ वर्षों से प्रार्थिनी के पति सामान्य नागरिक की तरह अपना जीवन व्यतीत कर रहे हैं एवम अपने पिता की जय माँ काली ट्रांसपोर्ट कम्पनी को संभाल रहे हैंI लेकिन उसके बावजूद बिधनू पुलिस द्वारा पति तथा पूरे परिवार को निरंतर प्रताड़ित किया जा रहा है I पीड़िता ने आरोप लगाया कि कल शुक्रवार को दोपहर 3 बजे वह अपने घर पर दोनों मासूम बच्चों के साथ सो रही थी तभी अचानक सेन पश्चिम पारा चौकी का सिपाही राजीव सिंह व उसके साथ एक दर्जन पुलिस कर्मी पीड़िता के बेडरूम में घुस आये और गन्दी गन्दी गालियां और अभद्रता करते हुए पूंछा कि कहाँ है तेरा पति आज साले का इनकाउंटर कर देंगे I जब पीड़िता ने बताया कि वह घर पर नहीं है और वो मौरंग मंडी अपने ट्रांसपोर्ट कम्पनी के आफिस गए हुए हैं I इतना सुन कर पुलिस कर्मियों ने पास सो रहे सात वर्षीय बेटे का कान पकड़ कर उठा दिया और बोले तेरा बाप कहाँ है , जब पीड़िता ने बीच बचाव की तो उक्त पुलिस कर्मियों ने मार पीट करते हुए अलमारी की चाभी मांगी| चाभी ना देने पर उक्त सिपाही राजीव सिंह ने अलमारी का लाकर तोड़कर सवा लाख रुपया नगद व लगभग 8 लाख रूपये के सोने के जेवर, आवश्यक कागजात तथा ATM कार्ड लूट कर प्रार्थिनी के घर की तौलिया में बाँध कर ले गए साथ ही प्रार्थिनी के घर पर लगे सात कैमरों का DVR भी अपने साथ ले गए, और जाते जाते धमकी दे गए कि आज  की घटना के विषय में कहीं भी मुंह खोला तो तेरे पति का इनकाउंटर करके काम तमाम कर देंगे।


जिसके बाद पूरे मामले की सूचना एस.एस.पी कानपुर नगर एवम ADG कानपुर जोन के CUG नम्बर पर दी I इससे पूर्व 13 फरवरी 2021 को प्रार्थिनी के पति को एस.ओ बिधनू विनोद कुमार सिंह ने थाने बुलाकर कहा था कि या तो गुडवर्क कराओ या फिर एक लाख रुपया महीने थाने पहुँचाओ जिसमें पीड़िता के पति द्वारा असमर्थता जताने पर उन्होंने फर्जी मुकदमें में फंसा कर जेल भेजने की धमकी दी थी I जिसके बाद 13-02-2021 को रात 2 बजे तथा दिनांक 03-03-2021 को शाम 6 बजे पुलिस प्रार्थिनी के घर आकर और उन्हें धमका कर दस-दस हजार रूपये वसूली करके ले गयी थी, जिसके CCTV फूटेज भी प्रार्थिनी के पास मौजूद हैं I