पीएम मोदी के स्वच्छता अभियान की हवा निकाल रहा नगर निगम

कानपुर/अखिलेश मिश्रा : देश के पीएम नरेन्द्र मोदी सत्ता में काबिज होने से पहले ही देश को नीट एंड क्लीन बनाने की कसम उठा ली थी। सत्ता में आते ही उन्होंने देश को साफ-सुथरा बनाने का तेजी से अभियान चलाया। इतना ही नहीं समय-समय पर जनता को जागरूक करने के लिए स्वंय भी सफाई करते कई बार नजर आएं।


लेकिन सिटी में सफाई की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निर्वाहन करने वाला नगर निगम विभाग स्वंय ही अपने मुख्यालय परिसर के आसपास गंदगी का अंबार लगाकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छता अभियान की हवा निकाल रहा है। हालांकि सिटी को नीट एंड क्लीन तथा हरा भरने के लिए मोटा करोडों का बजट स्वीकृत है। लेकिन सारी सफाई पत्रावलियों में पूरी हो रही है।

स्मार्ट सिटी की वास्तविकता से अगर आप अगवत होना चाहते है तो मुख्यालय मोतीझील के पीछे कूडा का ढेर जमा है। जब मुख्यालय की ऐसी स्थिति है तो सिटी के हालत क्या होंगे यह बताने की जरूरत नहीं है। हालांकि निगम कर्मचारी समय-समय पर सफाई के नाम पर तेजी से सक्रिय होते है।

लेकिन वह मौका तब होता है जब सिटी में कोई वीवीआइपी का आगमन होने वाला होता है। वीवीआईपी के आने पर कार्यक्रम स्थल पर पूरा रूट चमचाचम हो जाता है। जिससे यह संदेश जाता है कि कानपुर सिटी पूरी तरह से स्मार्ट सिटी बन रहा है। लेकिन यह सब भ्रम की स्थिति है।