कानपुर में वैक्सीन की किल्लत, कैसे मनाएं टीकोत्सव : स्वास्थ्य विभाग परेशान

कानपुर/फैज़ान हैदर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी 11 से 14 अप्रैल तक टीका उत्सव मनाने की घोषणा कर दी है। सिटी में एक ओर जहां कोविड वैक्सीनेशन को लगातार बढ़ाने की कवायद चल रही है। वहीं दूसरी ओर वैक्सीन की बढ़ी मांग के बीच इसकी किल्लत भी अब शुरू हो गई है। वैक्सीन की कमी के कारण शुक्रवार को उर्सला, जागेश्वर और कृष्णानगर अस्पताल समेत 10 टीकाकरण केंद्रों पर लोगों ने भरी हंगामा किया।


इन केंद्रों पर आठ हजार से अधिक लोग सुबह से ही टीका लगवाने के लिए पहुंच गए। इनमें से महज 2367 लोगों का ही टीकाकरण हो सका। निजी क्षेत्र के टीकाकरण केंद्रों पर भी दो सप्ताह से अधिक समय से वैक्सीन की कमी के चलते टीकाकरण ठप है। इसके चलते सरकारी केंद्रों पर सुबह से ही भीड़ उमड़ रही है। इन हालात में टीका उत्सव कैसे मनेगा, इसे लेकर अधिकारी भी पशोपेश में हैं।

शहर में कोविड वैक्सीन की किल्लत के बीच अब स्वास्थ्य महकमे के अधिकारी भी मान रहे हैं कि किल्लत के बीच लक्ष्य के मुताबिक वैक्सीनेशन नहीं हो सकेगा। ऐसे में यह अधिकारी लोगों को सोशल वैक्सीन यानी मास्क पहनना और सोशल डिस्टेसिंग को फालो करने की सलाह दे रहे हैं। हलाकि कानपुर मंडल की ओर से शासन को और वैक्सीन की डिमांड भेजी गई है। शासन से जल्द वैक्सीन भेजने के लिए कहा गया है। जिससे वैक्सीनेशन एक बार फिर सुचारू रूप से चल सके।