मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. शर्मा के साथ सुना PM मोदी का संबोधन

स्टेटडेस्क : भारतीय जनता पार्टी के 41वें स्थापना दिवस पर योगी आदित्यनाथ, डॉ. शर्मा ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के साथ PM मोदी का संबोधन सुना गया। उत्तर प्रदेश भाजपा ने भी लखनऊ में प्रदेश मुख्यालय में मंगलवार को आयोजन किया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने वर्चुअल संबोधन किया। उनका संबोधन सुनने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, भाजपा उत्तर प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह व प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल के साथ योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल के सहयोगी भी मौजूद थे। भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश में पार्टी का स्थापना दिवस बूथ स्तर तक मना रही है। पार्टी के राज्य मुख्यालय सहित सभी क्षेत्रीय, जिला, महानगर कार्यालयों व मण्डल स्तर पर कार्यकर्ता पार्टी के स्थापना दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर रहे हैं।


पार्टी कार्यालयों पर भाजपा का झण्डा लगाकर कार्यकर्ताओं ने सामूहिक रूप से स्थापना दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के संबोधन को विभिन्न डिजिटल प्लेट फार्म के माध्यम से सुना। प्रदेश में बूथ अध्यक्ष व बूथ समिति के सदस्य सहित अन्य पार्टी पदाधिकारी अपने-अपने घरों पर पार्टी का झण्डा भी लगाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान अपने संबोधन में कहा कि आज भाजपा से गांव-गरीब का जुड़ाव इसलिए बढ़ रहा है क्योंकि आज वो पहली बार अंत्योदय को साकार होते देख रहा है। आज 21वीं सदी में जन्म देने वाला युवा, भाजपा के साथ है, भाजपा की नीतियों, भाजपा के प्रयासों के साथ है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार के काम का मूल्यांकन उसके डिलिवरी सिस्टम से हो रहा है। यह देश में सरकारों के कामकाज का नया मूलमंत्र बन रहा है। बावजूद इसके, दुर्भाग्य है कि भाजपा अगर चुनाव जीते तो उसे चुनाव जीतने की मशीन कहा जाता है। उन्होंने कहा कि भाजपा को कार्यकर्ता ताकत देते हैं। जनता के बीच काम करते हुए संगठन की शक्ति को और बढ़ाते हैं।

अपने जीवन, आचरण, प्रयासों से वो जनता का दिल जीतने का काम अविरत करते रहते हैं। कार्यकर्ताओं के प्रयासों से आज भारतीय जनता पार्टी दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आप सभी को भाजपा स्थापना दिवस की बहुत-बहुत बधाई। पार्टी के गौरवशाली यात्रा के आज 41 वर्ष पूरे हो रहे हैं। यह 41 वर्ष इस बात के साक्षी हैं कि सेवा और समर्पण के साथ कोई पार्टी कैसे काम करती है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारे देश में राजनीतिक स्वार्थ के लिए दलों के टूटने के अनेकों उदाहरण हैं, लेकिन देशहित में लोकतंत्र के लिए दल के विलय की घटनाएं शायद ही कहीं मिलेंगी। भारतीय जनसंघ ने यह करके दिखाया था। उन्होंने कहा कि हमारी कार्यशैली है हम किसी से छीनते नहीं है। सबकी आवश्यकता पर संवेदनशीलता से काम करते हैं। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने किसानों का मुद्दा उठाया और कहा कि पहले की सरकारों की प्राथमिकता में छोटे किसान नहीं थे। लेकिन हमारी सरकार ने छोटे किसानों की बेहतरी के लिए कई नए कार्यक्रमों की शुरुआत की।

इस क्रम में उन्होंने फसल बीमा योजना, अंत्योदय योजना आदि का जिक्र किया। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए कहा कि मैं भाजपा के स्थापना दिवस पर आप सभी को शुभकामनाएं देता हूं। 1980 में भाजपा की स्थापना हुई थी। आज 41वां स्थापना दिवस हम सब मना रहे हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि आज भाजपा अपना स्थापना दिवस मना रही है। इस अवसर पर उन्होंने सबका साथ, सबका विकास को भाजपा विश्वास का मंत्र बताया। उन्होंने कहा कि लोकसभा में भाजपा कभी दो सीट में थी और आज 303 सीट पर पहुंची। उन्होंने कोरोना काल के दौरान आई चुनौतियों का भी जिक्र किया। पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर उन्होंने श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय को फूलों की श्रद्धांजलि अर्पित की।