28.1 C
Delhi
Homeउत्तर प्रदेशउन्नावबीघापुर/उन्नाव : गोली लगने से हुयी नवविवाहिता की हत्या मायके पक्ष ने...

बीघापुर/उन्नाव : गोली लगने से हुयी नवविवाहिता की हत्या मायके पक्ष ने लगायी न्याय की गुहार

- Advertisement -
  • भाई व अविवाहिता बहनो ने घंटो कांटे थाने के चक्कर
  • भूमि विवाद में हमारी बहन की गयी हत्या

बीघापुर/उन्नाव/शिवम शुक्ला : थाना क्षेत्र के गांव अरम में सोमवार दोपहर को 40 वर्षीय विवाहिता की गोली लगने से हुई मौत पर मायके पक्ष के लोग हत्या का केस दर्ज कराने के लिए घंटो तक थाने में डटे रहे पुलिस ने मिले प्रार्थना पत्र पर जांच कर कार्यवाही करने की बात कही है।

अरम निवासी विमल कुमार द्विवेदी की 40 वर्षीय पत्नी पूजा देवी की देसी तमंचे से गोली लगने से इलाज के लिए जिला चिकित्सालय पहुंचते ही मौत हो गई थी। जहां ससुराल पक्ष के लोगों ने पूजा द्वारा आत्महत्या किए जाने की बात कही थी लेकिन मंगलवार को दिल्ली से लौटे मृतका पूजा के भाई दीपक व मृतक की अविवाहित बहने ज्योति व दीपिका ने दो दर्जन लोगों के साथ थाने पहुंचकर बड़ी बहन की ससुराली जनों द्वारा पारिवारिक विवाद के चलते हत्या किए जाने का आरोप लगाते हुए प्रार्थना पत्र दिया है।

मृतका पूजा के मायके पक्ष से आने वाले लोग हत्या का केस दर्ज कराने के लिए कई घंटे तक थाने में मौजूद रहे और पुलिस पर ससुराली जनों से सांठगांठ का आरोप लगाते रहे। पुलिस को दिए गए प्रार्थना पत्र में मृतका के भाई ने बताया कि बहन पूजा की हत्या सुनियोजित तरीके से पति विमल द्विवेदी व जेठ श्यामू एवं देवर लाला तथा जेठानी बबली ने मिलकर की है।

बंटवारे को लेकर हुआ था विवाद
मृतका पूजा का मायका भी गांव में ही है माता-पिता का 3 वर्ष पहले ही देहांत हो चुका है। मृतका ही अपने छोटे भाई व दोनो अविवाहित बहनों की देखरेख करती थी। ससुराल में बंटवारे को लेकर महीने भर से आपस में विवाद चल रहा था। प्रभारी निरीक्षक सतीश कुमार गौतम ने बताया कि मांयके पक्ष के लोगों का प्रार्थना पत्र मिला है जांच कर आगे कार्यवाही की जाएगी।

पारिवारिक विवाद के चलते जेठ ने मारी गोली :
बीघापुर उन्नाव। थाना परिसर में आई मृतका पूजा की दोनों बहनों ने बताया कि जैसे ही दीदी के गोली लगने की सूचना मिली वह मौके पर पहुंची जहां पर आनन.फानन गाड़ी में लादकर ले जाने लगे मेरे द्वारा बातचीत करने की बात कहने के बावजूद भी दिखाने से कतराते रहे गाड़ी में दीदी के लेट जाने के बाद दीदी ने बताया कि पारिवारिक विवाद के चलते जेठ ने उन्हें गोली मार दी मेरा बचना मुश्किल है।

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -