उन्नाव में आक्सीजन के अभाव में निर्वतमान प्रधान समेत पांच प्रत्याशियों ने तोड़ा दम

कानपुर/आशुतोष त्रिपाठी । गुरुवार की रात जनपद में अलग-अलग गांवों में बीमारी के चलते मौत हो गई। एक निवर्तमान प्रधान व एक महिला प्रधान प्रत्याशी समेत चार प्रधान प्रत्याशी ने डैम तोड़ दिया। वहीं बिछिया ब्लाक की ग्राम पंचायत इछौली के प्रत्याशी और उसकी पत्नी की उपचार के दौरान मौत हो गई। स्वजनो ने शवों का गांव में ही अंतिम संस्कार कर दिया है। वही मौरावां के अहेसा निवासी निवर्तमान प्रधान उमाशंकर रावत पुत्र शीतल प्रसाद की गुरुवार की रात अचानक तबियत ख़राब हो गई।


जिस पर स्वजनो ने गांव में प्राथमिक उपचार कराया। जिसके बाद भी हालत में सुधार नहीं हुआ। मध्य रात में सांस लेने में दिक्कत होने पर स्वजन आनन-फानन लखनऊ लेकर गए लेकिन वहां किसी अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया। ऑक्सीजन के अभाव में स्थिति बिगड़ती चली गई जिससे निवर्तमान प्रधान ने दम तोड़ दिया। वही दूसरी घटना बरौला गांव के निवासी गुड्डी देवी पत्नी रामकिशोर साहू प्रधान पद की उम्मीदवार थी। गुरुवार रात अचानक उनकी हालत बिगड़ने पर स्वजन जिला अस्पताल ले गए। जहां उनकी मौत हो गई।बिछिया ब्लाक की ग्राम पंचायत इछौली निवासी राज नारायण शुक्ला ग्राम पंचायत चुनाव में प्रधान पद के उम्मीदवार थे। तीन दिनों से राज नारायण और उनकी पत्नी उर्मिला बीमार चल रहे थे। गुरुवार रात अचानक दंपती की हालत बिगड़ने पर स्वजन पहले उन्हें पुरवा स्थित सीएचसी ले गए।

लेकिन स्वजन इलाज से सतुष्ट नहीं हुए और आनन-फानन राज नारायण को कानपुर कल्याणपुर स्थित किसी निजी अस्पताल लेकर आ गए। जबकि पत्नी को पुरवा सीएचसी में ही भर्ती रखा। कानपुर कल्याणपुर में इलाज के दौरान राज नारायण शुक्ला की मौत हो गयी है। जब यह सूचना पुरवा में भर्ती उनकी पत्नी को मिली तो उनकी भी हालत और बिगड़ गयी है। स्वजन उन्हें भी कानपुर लेकर जा रहे थे तभी रास्ते में उर्मिला ने भी दम तोड़ दिया। इसी तरह बीघापुर विकासखण्ड की ग्राम पंचायत लालगंज प्रथम की प्रधान प्रत्याशी 50 वर्षीय कमला देवी की गुरुवार की रात मौत हो गई। स्वजन के अनुसार कमला देवी मधुमेह की बीमारी से पीडि़त थी गुरुवार को वह कानपुर से दवा लेकर घर वापस आई और शुक्रवार की सुबह उनकी मौत हो गई । इस ग्रामपंचायत में कमला देवी साहित कुल तीन प्रत्याशी मैदान में हैं।