कोविड अस्पताल की रसोई का निरीक्षण, हैरत में रहा स्टाॅफ

उन्नाव/शिवम शुक्ला : जिलाधिकारी सरनीत कौर ब्रोका ने कोबिड हॉस्पिटल सरस्वती मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया। उन्होंने आई सीयू, वार्ड नं0 7, 8, 9 एच डी यू( इंडिपेंडेंस यूनिट )का निरीक्षण जहां पर मरीजों से बातचीत कर उनसे उपचार, भोजन आदि की जानकारी दी। जिससे अस्पताल का स्टाफ भी हैरत में रहा। कोविड हाॅस्पिटल सरस्वती मेडिकल काॅलेज नवाबगंज में यूँ तो आलाधिकारी पूर्व में भी आकस्मिक रूप से पहुंचकर निरीक्षण करते आ रहे है।


लेकिन जिलाधिकारी व अन्य अधिकारी अस्पताल भवन के बाहर से ही दिशा निर्देश देकर वापस होते रहे। अस्पताल के डाक्टर व कर्मचारियों की माने तो प्रभारी जिलाधिकारी रहते सीडीओ सरनीक कौर ब्रोका आईएएस पहली बार अस्पताल के अंदर ही नहीं पहुंची, बल्कि वहां के रसोई घर का भी बारीकी से निरीक्षण कर जायजा लिया व आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए।

उन्होंने कैंटीन का निरीक्षण किया। कैंटीन में बनाए जा रहे भोजन, थाली, पीने के पानी के साथ साथ चाय और नाश्ता दिए जाने की जानकारी किया। उन्होेंने चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि रोगियों के उपचार, दवा, साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए। हॉस्पिटल में 154 रोगी भर्ती मिलें। हॉस्पिटल में लगाए गए सीसी कैमरे की क्रियाशीलता, स्क्रीन पर डिस्प्ले को देखा। निरीक्षण के समय मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर कैप्टन आशुतोष कुमार, नोडल अधिकारी डॉ विवेक गुप्ता, सरस्वती मेडिकल कॉलेज के डायरेक्टर डॉ सौरभ कवर, जनरल मैनेजर मनोज सिसोदिया उपस्थित रहे।

जल जीवन मिशन ‘‘100 दिन का अभियान’ पर बैठक, पंचायती चुनाव के दौरान स्कूल ध्कॉलेजों में पानी की कमी कतई बर्दाश्त नहीं

उन्नाव : मुख्य विकास अधिकारी सरनीत कौर ब्रोका ने यू0पी0प्रोजेक्ट्स कारपोरेशन लि0, यूनिट-8, लखनऊ के परियोजना प्रबन्धक श्री राज नाथ यादव एवं सहायक परियोजना प्रबन्धक पंजाब सिंह के साथ संयुक्त बैठक की गयी। जल जीवन मिशन ‘‘100 दिन का अभियान’’ के अन्तर्गत विद्यालयों, आंगनवाड़ी केन्द्र एवं आश्रमशालाओं में पाइप के माध्यम से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराये जाने हेतु कार्यो में गति प्रदान करते हुए 25 अप्रैल तक पूर्ण कराने के निर्देश दिये गये, जिसमें कार्य पूर्ण कराने की तिथि 23 मई निर्धारित की गयी है, परन्तु मुख्य विकास अधिकारी द्वारा कार्य समाप्त करने के निर्देश दिये गये है।

उन्होंने ने डीपीआरओ को निर्देश दिए कि चुनाव के समय पानी की व्यवस्था व्यवस्था में किसी तरह की कमी ना रहे स्कूलों में पूरी सुचारू रूप से पानी की व्यवस्था हो इसकी जिम्मेदारी उन्होंने बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए। उन्होंने डीपीआरओ को निर्देशित करते हुए कहा कि टीम गठित कर यूपीपीसीएल को उपलब्ध करा दिया जाए ,ताकि वह छुट्टियों में सारी कमियों को दूर करते हुए पानी की व्यवस्था को दुरुस्त करें।

उन्होंने डीपीओ को निर्देशित करते हुए कहा कि 94 आंगनवाड़ी की लिस्ट तैयार कर दें ताकि यह सुनिश्चित हो सके इन टीमों के माध्यम से चुनाव के बाद पंचायती राज विभाग से मिलकर गांव गांव में ऐसे हैंडपंप जिस पर रेड मार्क लगा हो उसको ठीक कराएंगे। बैठक में अर्थ संख्या अधिकारी व संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित थे।