कोविड गाइडलाइन की धज्जियां उडाते तहसील कर्मचारी

उन्नाव/शिवम शुक्ला : जहाँ एक ओर कोरोना फिर अपने पैर फैला रहा है, वही हर जगह कोविड गाइडलाइन की धज्जियां उडाइ जा रही हैं। सरकार के सख्त नियमों का पालन करना हर वर्ग के लोगों के लिए जरूरी है। बताते चलें कि अभी हाल ही में जिलाधिकारी की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई थी।


उसके बाद भी सदर तहसील में मौजूद कर्मचारी न तो मास्क का प्रयोग कर रहे हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिग का। ब्लाक सभागार में रोज फरियादी व लेखपाल कानून गो का जमावडा रहता है जिसमें मास्क की अनदेखी होती है।

कोविड गाइडलाइन को ताक पर रखकर यह लोग काम कर किसी बड़ी अनहोनी का इंतजार कर रहे हैं। मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने भी सभी जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर प्रत्येक जनपद में मास्कविहीन लोगो का नियमित चालान करने का लक्ष्य दिया है। बड़ा सवाल है यदि इसी तरह अनदेखी होती रही तो वो दिन दूर नहीं जब अन्य जनपदों की भांति कोरोना बम जनपद में भी फूटेगा।

किसानों पर कहर बनकर टूट रही हाईटेंशन लाइन, शॉर्ट सर्किट से लगातार फसलों में लग रही आग

उन्नाव। जिले के विभिन्न गाँवो से गुजरी हाईटेंशन लाइन से हो रही शॉर्ट सर्किट से आग की घटनाओं से अन्नदाता किसान की फसलें जलकर राख हो रही है। जिले में प्रतिदिन एक दर्जन स्थानो पर खेतों में आग लगने की घटनाएं प्रकाश में आ रही है। मंगलवार को विकासखण्ड नवाबगंज की ग्राम पंचायत सराय इन्दल और टिकवामऊ के किसानों के खेतों से गुजरी हाइटेंशन लाइन में हुए शॉर्ट सर्किट से आग लग गई जिसमें कई बीघा खड़ी गेहूँ की फसल जलकर राख हो गई गई है।

जिला प्रशासन व तहसील प्रशासन से अनुरोध है कि ऐसे गाँव जंहा से हाइटेंशन लाइन गुजरी है वहाँ के किसानों को आग लगने की घटनाओं की आशंका को देखते हुए समय से पहले जागरूक और सतर्क करते हुए। आग की घटनाओं के रोकथाम और सचेत करने के लिए जागरूक करें। आवश्यक कदम इस ओर जिले के किसानों के लिए उठाए।

असोहा : आग लगने से 9 बीघा फसल जलकर राख

मंगलवार दोपहर ब्लाक क्षेत्र के रहिमानपुर गाँव मे अज्ञात कारणो से ज्ञान प्रकाश की 8 बीघा व पियारे की एक बीघा गेहूँ के खेत मे आग लगने से फसल जलकर राख हो गई। राहगीरों की सूचना पर रहिमानपुर व आसपास के गाँव के लोग मौके पर पहुँचे और निजी संसाधनो से तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। ग्रामीण कुलदीप लोधी ने बताया की फायरब्रिगेड को सूचना दी गई थी लेकिन फायरब्रिगेड 3 घंटे की देरी से पहुँची तब तक ग्रामीणो ने अपने संसाधनो से आग पर काबू पा लिया था। सूचना पर पहुँचे क्षेत्रीय लेखपाल रविकांत ने आग से हुए नुकसान का आकलन कर उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेजने की बात कही है।