त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव : प्रशिक्षण में अनुपस्थित कर्मचारियों का वेतन रोका, एफआफआई के निर्देश

उन्नाव/शिवम शुक्ला : त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन को लेकर यहां पन्नालाल हाॅल में हुयी बैठक में चुनाव को निष्पक्ष व शांतिपूर्ण सम्पन्न कराने के लिए प्रभावी रणनीति तैयार की गयी है। बैठक में जिला स्तरीय विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। अध्यक्षता करते हुए प्रभारी जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी सरनीत कौर ब्रोका ने निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशानुसार चुनाव को निर्भीक सम्पन्न कराने के लिए प्रशिक्षण पर बल दिया।

उन्होने कहा प्रशिक्षण में अनुपस्थित रहने वाले कर्मचारियों का वेतन रोक कर एफआईआर दर्ज करायी जाये। त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन में लगाये गये कार्मिको की डयूटी के वितरण एवं उपस्थिती सुनिश्चित कराये जाने के सम्बन्ध में जिला विकास अधिकारी मनीष कुमार को निर्देश दिये कि कार्मिकों की उपस्थिती प्रत्येक दशा में शतप्रतिशत सुनिश्चित करायी जायें।

जो कार्मिक प्रशिक्षण में उपस्थिती दर्ज नही कराते है ऐसे कार्मिकों का स्थायी रूप से वेतन रोकते हुये एफआईआर जैसी कार्यवाही किये जाने की योेजना अभी से तैयार कर ली जाये। उन्होंने कहा कि निर्वाचन से डयूटी उसी स्थित में हटेगी जो साक्ष्य सहित प्रमाण प्रस्तुत करेगा। मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है। अस्वस्थ्य कार्मिकों की डयूटी मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट के आधार पर ही हटेगी।

प्रत्येक ब्लाक स्तर पर स्वास्थ्य टीम का गठन किये जाने एवं कार्मिकों को ब्लाक स्तर तक पहुचाये जाने हेतु वाहन की व्यवस्था कराये जाने की चर्चा की गयी।प्रभारी जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी ने उपस्थित निर्वाचन से जुड़े प्रभारी अधिकारियों को निर्देश दिये है कि कार्मिको का प्रशिक्षण, वाहन की उपलब्धता, लेखन समग्री, मत पत्र व्यवस्था, मतदाता सूची, मत पेटी आदि की व्यवस्था एवं तैयारिया समय से पूरी कर ली जाये।

अपर जिलधिकारी राकेश गुप्ता को निर्देश दिये गये कि शिकायतों के निस्तारण, कन्ट्रोल रूम तथा वीडियों गाफ्री आदि की तैयारियों की समीक्षा समय-समय पर करते रहें। बैठक में अपर जिलाधिकारी राकेश सिंह, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट नन्हकू सहित सम्बन्धित कार्यों के प्रभारी अधिकारी आदि उपस्थित रहें।