29.1 C
Delhi
Homeउत्तर प्रदेशउन्नावउन्नाव : नाबालिक युवती को कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाकर रिश्तेदार ...

उन्नाव : नाबालिक युवती को कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाकर रिश्तेदार सहित दोस्तों ने किया शारीरिक शोषण, जानिए क्या है मामला

- Advertisement -

सफीपुर/उन्नाव/सौरभ तिवारी : नाबालिक युवती को कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाकर रिश्तेदार युवक सहित उसके दोस्तों ने किया शारीरिक शोषण। पीड़िता ने कोतवाली में तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई। पुलिस ने मामले में संज्ञान लेते हुए प्राथमिकी दर्ज कर विधिक कार्रवाई शुरू कर दी।

कोतवाली क्षेत्र के सफीपुर कस्बे के एक मोहल्ला निवासिनी पीड़िता ने पुलिस को दिए गए शिकायती पत्र में बताया है कि वह अपने पुराने रिश्तेदार गुफरान व नूर आलम का घर आना जाना लगा रहता था जिसके चलते वह लोग अपने भाई फुरकान की शादी का कार्ड लेकर हमारे घर आए और यह कहकर हमें साथ ले गए की मेरी मम्मी ने तुम्हें बुलाया है।

घर से बाइक से निकले थे कि कस्बे के बस स्टॉप के पास उन्होंने कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर उसे पिलाकर ले गए थे। दोनों युवकों पर शारीरिक शोषण का आरोप लगाते हुए पीड़िता ने जब परिजनों से शिकायत करने को कहा तो गुफरान ने उसके साथ निकाह करने को राजी हुआ।

कुछ दिनों बाद पीड़िता ने जब शादी के लिए गुफरान से कहा तो उसने शादी करने से मना कर पीड़िता के साथ गाली गलौज कर मारपीट की और उसे भगा दिया। जिसकी सूचना पीड़िता ने पुलिस अधीक्षक व कोतवाली पुलिस को दी थी। पुलिस ने न्याय दिलाते हुए पीड़िता का निकाह उसी युवक के साथ करा दिया था।

कुछ समय बीतने के बाद गुफरान ने अपने दोस्त नूर आलम को मिठाई में नशीला पदार्थ मिलाकर शारीरिक शोषण कर वीडियो बनाया गया। जिसके बाद दूसरे व्यक्ति से अवैध संबंध होने का आरोप लगाते हुए पीड़िता को घर से मारपीट कर वहां से भगा दिया।

पुलिस ने पीड़िता की पुनः शिकायत पर उसका निकाह नूर आलम के साथ करा दिया था जिसके बाद वह अपने ससुराल में रहने लगी थी। शादी के चार-पांच दिन बाद नूर आलम अपने साथियों को लेकर पीड़िता को जान से मारने की धमकी देते हुए कमरे में बंद कर जबरजस्ती पीड़िता का शारीरिक शोषण किया गया गुफरान नूर आलम ने पीड़िता को धमकी दी कि अगर कहीं शिकायत की तो जान से मार डालेंगे और नहर में बहा देंगे।

नूर आलम तथा गुफरान पीड़िता के साथ अप्राकृतिक यौन संबंध जबरदस्ती बनाते रहे। पुलिस ने तहरीर के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर आरोपियों के विरुद्ध विधिक कार्यवाही करते हुए पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिये भेजा।

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -