29.1 C
Delhi
Homeउत्तर प्रदेशउन्नावउन्नाव : मुकदमा दर्ज होने के बावजूद न्याय के लिए भटक रहा...

उन्नाव : मुकदमा दर्ज होने के बावजूद न्याय के लिए भटक रहा विकलांग पीड़ित

- Advertisement -

उन्नाव/रिपुदमन शुक्ला : अजगैन थाना क्षेत्र के कुईथर गांव निवासी विकलांग पीड़ित कुंवरपाल सिंह न्याय के लिए दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर है। अजगैन पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर दबंगों के खिलाफ मुकदमा तो दर्ज कर लिया लेकिन कार्यवाही के नाम पर अभी तक महज विवेचना की चक्की ही चल रही है। जिससे दबंगों के हौसले बुलंद है और वह पीड़ित का पैसा लौटाने का नाम नहीं ले रहे हैं।

दबंगों के हौसले इतने बुलंद है कि धारा 307, 323, 324, 325, 504, 506, 507 में मुकदमा लिखे जाने के बाद भी पीड़ित विकलांग को जान से मार देने की धमकी दे रहे हैं। विकलांग पीड़ित ने पुलिस प्रशासन के चक्कर काटने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास प्रार्थना पत्र देते हुए कहा कि चार बिटिया है जिनका जीवन यापन करने के लिए व शादी के लिए उसे पैसे की जरुरत है।

पीड़ित ने बताया कि रेलवे की ठेकेदारी में प्रेम सिंह के कहने पर पैसा लगाया था। अब प्रेम सिंह की नीयत खराब हो गयी है और पैसा हड़पना चाहता है। प्रेम सिंह व उनके दो साथियों पर मुकदमा भी पंजीकृत है फिर भी निवर्तमान नवाबगंज चौकी इंचार्ज जितेंद्र यादव द्वारा आगे जांच नहीं की गयी।

पीड़ित ने बताया कि एक बार आईजीआरएस में रिपोर्ट के बाद समझौता भी हुआ था उसके बावजूद जब उसने प्रेम सिंह से पैसे की मांग की तो उस पर जानलेवा हमला करवाने के बाद गोली मार देने की धमकी दी गई। मारपीट में आई चोटों का जिला सरकारी अस्पताल में मेडिकल भी कराया गया था। फिलहाल विकलांग पीड़ित अधिकारियों से लेकर सीएम योगी तक फरियाद लगा रहा है कि चार-चार बेटियां है अगर पैसा नहीं मिला तो वह बर्बाद हो जाएगा।

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -