39.1 C
Delhi
HomeNewsयूपी : कड़ी सुरक्षा के बीच ज्ञानवापी में तहखाने के चारों कमरे...

यूपी : कड़ी सुरक्षा के बीच ज्ञानवापी में तहखाने के चारों कमरे का सर्वे, तमाम तथ्य जुटाए

- Advertisement -spot_img

वाराणसी, स्टेट डेस्क। ज्ञानवापी श्रृंगार गौरी प्रकरण में कमीशन की कार्यवाही अपने निर्धारित वक्त से शुरू कर दी गई है। अब कोई गड़बड़ न हो सके इसके लिए जिला प्रशासन ने शनिवार की सुबह से ही कड़ी व्यवस्था कर दी थी। ज्ञानवापी से तकरीबन एक किमी. पहले ही बैरिकेडिंग करके वाहनों के साथ ही पैदल लोगों को भी रोक दिया गया। पुलिस ने गोदौलिया और मैदागिन से आने वाले सारे वाहनों को परिसर की ओर आने से रोक दिया। वहीं बाबा विश्वनाथ के दरबार में आने वाले भक्तों की भी जांच-पड़ताल की जा रही है।

पुलिस के जवान भी शील्ड लेकर हो गए तैयार

एडवोकेट कमिश्‍नर की कार्यवाही का दौर शुक्रवार सुबह नौ बजे से शुरू हो गया। जब इस बात की सूचना के साथ सभी आवश्यक कागज दोनों पक्षों को कोर्ट कमिश्नर ने सौंप दिया। शनिवार की सुबह सुनिश्‍चित किया गया कि परिसर में कोई भी अन्‍य व्‍यक्ति की मौजूदगी न रहे।

14 मई को मस्जिद के तहखाने के चार कमरों और पश्चिमी दीवार के सर्वे की कार्यवाही हुई। बाद में विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन ने कहा है कि तहखानों में कल्पना से बहुत कुछ ज्यादा है। इसके पहले सर्वे के दौरान किसी भी तरह का पैदल और गाड़ियों से गतिविधि पर रोक लगा दी गई है। संकरी गलियों के मुहानों पर पीएसी तैनात कर दी गई है। पुलिस फोर्स के साथ चप्पे- चप्पे पर तैनात है। विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन और पांचों महिलाओं में चार वादी जिनमें मंजू व्यास, सीता साहू, रेखा पाठक और लक्ष्मी देवी यहां मौजूद हैं। गेट नंबर एक पर बैरिकेडिंग कर भारी फोर्स लगाई गई है। चौक थाना के पास भी बैरिकेडिंग की गई है। इसके अलावा चौक से बांसफाटक तक सुरक्षा व्‍यवस्‍था कड़ी कर दी गई है।

इस पूरे प्रकरण में बातचीत करते हुए जितेंद्र सिंह बिसेन ने कहा कि दो बार कमीशन की कार्यवाही को रोका गया था। लेकिन, आज कार्रवाई पूरी होकर रहेगी, यह विश्वास है। उन्होंने बताया कि कार्यवाही के लिए तीन दिन का समय मिला है। कोशिश करेंगे कि आज ज्यादा से ज्यादा काम पूरा हो जाए। कार्यवाही रविवार को भी जारी रहेगी और सोमवार को भी। मंगलवार को कोर्ट में रिपोर्ट सबमिट करनी है। यदि सोमवार तक कार्यवाही पूरी न हो सकी या कोई और आवश्यकता पड़ी तो कोर्ट से परमिशन लेकर 17 तारीख को भी कार्यवाही पूरी करके रिपोर्ट फाइल की जाएगी।

यह भी पढ़ें…

https://www.beforeprint.in/news/trending-news/fire-swallowed-27-lives-in-delhi-building-know-how-villagers-consciously-rescued-hundred-people/

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -