13.1 C
Delhi
Homeउत्तर प्रदेशकोरोना से डरा यूपीसीए

कोरोना से डरा यूपीसीए

- Advertisement -

कानपुर/भूपेंद्र सिंह। कोरोना का खौफ अब उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के अधिकारियों पर भी सि‍‍र चढ़कर बोलने लगा है। उन्होंने अपने सारे क्रियाकलापों पर विराम देने का मन भी बना लिया है। वह किसी भी खिलाड़ी व अधिकारी को कोरोना की चपेट में आने से बचाने के लिए हर संभव प्रयास में लग गए हैं।

कोरोना बीमारी का डर इस कदर हावी है कि यूपीसीए के तमाम कंडीशनिंग कैंप ,प्रशिक्षण शिविर व अभ्यास मैचों को स्थगित कर दिया गया है।गौरतलब है कि बीते साल भी प्रशिक्षण शिविर के दौरान एक खिलाडी कोरोना का चपेट में आ गया था उससे सबक लेते हुए यूपीसीए के पदाधिकारियों ने डर की वजह से सभी शिविर व अभ्यास मैचों को स्थंगित कर दिया है। यूपीसीए की रणजी ट्राफी टीम का प्रशिक्षण शिविर पिछले सत्र कोरोना के बढ़ते असर के चलते स्थगित कर दिया गया था। इस बार नए सत्र के लिए उप्र की टीम ने तैयारी शुरू कर दी थी।

जिस पर एक बार फिर कोरोना का ग्रहण लग गया । यूपीसीए की ओर से कोरोना के बढ़ते असर को देखते हुए एक बार फिर से स्थगित कर दिया गया है। जिसके बाद ग्रीनपार्क और कमला क्लब में कैंप लगाकर तैयारी कर रही उप्र की टीम को अपनी तैयारी अधूरी छोडऩी पड़ गयी। हालांकि उप्र क्रिकेट एसोसिएशन (यूपीसीए) बायो-बबल घेरे में कैंप का आयोजन कर रहा था।

सभी घरेलू टूर्नामेंट स्थगित करने की घोषणा के बाद कैंप में तैयारी कर रही उप्र की संभावित टीम के खिलाडिय़ों को झटका लगा है। पिछले सत्र में कैंप के दौरान ही एक खिलाड़ी और सहायक टीम स्टाफ के संक्रमित आने के बाद उप्र क्रिकेट एसोसिएशन में खूब विवाद हुआ था। इस बार यूपीसीए ने शुरू से ही कोरोना को देखते हुए खिलाडिय़ों को जांच के बाद ही कैंप में शामिल किया था। जिसके बाद से खिलाड़ी किसी के भी संपर्क में नहीं आ रहे हैं। पांच दिवसीय कैंप के दो दिन पूरे होने के बाद स्थगित किए जाने की योजना एसोसिएशन करेगा। नई तिथियों पर फिर से कैंप लगाने की योजना भी बनाएगा जिसके बाद नई तिथियों पर विचार किया जाएगा।

यह भी पढ़े…

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -